पुलवामा आतंकी घटना में शहीद हुए रमेश, मातम में डूबा वाराणसी

वाराणसी। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी घटना में 44 जवानों की जान चली गई। शहीद होने वालों में वाराणसी के एक लाल भी है। वाराणसी के चिरईगांव ब्लाक के मिलकोपुर गांव के रमेश यादव आतंकी घटना में शहीद हुए है। उनके मौत की खबर जैसे ही गांव में पहुंची परिवार में कोहराम मच गया। 
चार दिन पहले ही गया था ड्यूटी
परिवारवालों का रो रोकर बुरा हाल है। किसी को विश्वास नहीं हो रहा है कि रमेश अब इस दुनिया में नहीं है। रमेश चार दिन पहले ही छुट्टी के बाद ड्यूटी पर गए थे। इसी बीच उनके मौत की खबर ने हर किसी को स्तब्ध कर दिया। बेहद मिलनसार स्वभाव के रमेश अपने परिवार में इकलौते कमाने वाले थे। पिता रामजी ने 2 बीघा खेत को गिरवी रखकर बेटे को पढ़ाया था। लेक्जन अब उसके जाने के साथ ही सारे अरमान टूट गए। 
पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा
इस आतंकी घटना के बाद गांव वालों में पाकिस्तान के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है। परिजनों की मांग है कि पाकिस्तान को कड़ा सबक सिखाया जाए ताकि फिर कभी इस तरह की घटना करने की जुर्रत न उठाएं। गुस्सा वर्तमान सरकार को लेकर भी है। रमेश के पिता कहते हैं कि एक के बाद एक घटनाएं हो रही है और हमारी सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है। 

Related posts