बलिया। विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में रहने वाले बैरिया बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपनी ही सरकार के निर्णय पर सवालिया निशान लगाये हैं। रमजान के पाक माह के दौरान जम्मू-काश्मीर में सीज फायर को निर्णय गलत करार दिया है। उनका कहना था कि अब किन परिस्थितियों में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सीज फायर का निर्णय लिया है यह समझ से परे है। जिन आतंकवादियों का कोई धर्म नही होता है उनके खिलाफ सीज फायर का निर्णय क्यों लिया गया? यह गलत है ऐसा नही करना चाहिए। विधायक यहीं नहीं रुके बल्कि इफ्तार को लेकर भी अपना नजरिया स्पष्ट किया। उनका कहवा था कि औबैसी और आजम खां जैसे भारत माता को डायन कहने वाले जहां हो वहां पर ऐसे कार्यक्रम में वह नहीं जा सकते। अलबत्ता राष्ट्रावादी सोच रखने वाले और तिरंंगा लहराने वाले बुलाते हैं जरूर जाउंगा क्योंकि वह अपने भाई हैं।

राहुल को टिटनेस-वो क्या जाने फिटनेस

यही नहीं बीजेपी विधायक ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री मोदी के फिटनेस को हास्यास्पद बताने पर कहा चुटकी लेते हुए कहा कि दरअसल राहुल गांधी को टिटनेस हो गया है। वो क्या फिटनेस के बारे में जानेंगे। उनकी कहना था कि मोदी-योगी राजनीति में भ्रष्ट्राचार को खत्म करने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं लेकिन नौकरशाही का एक बड़ा हिस्सा पिछले कई दशकों से खुद किसी न किसी दल से जुड़ चुुका है। ऐसे लोग ही भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम को कमजोर करने में जुटे हैं।

योगी सरकार है, बख्शेगी नहीं

मेधावी छात्रों को दिये गये चेक बाउंस होने के मामले में उनका कहना था कि यह तो अधिकारियों का खेल है। जानबूझ कर कुछ ऐसा कर दिया होगा जिससे सरकार की किरकिरी हो। वह यह भूल जा रहे है कि योगी सरकार किसी को बख्शती नहीं है। भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई का सिलसिला आरम्भ चुका है।

admin

No Comments

Leave a Comment