बलिया। पीएम मोदी 341 किमी लम्बे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की आधारशिला 14 जुलाई को आजमगढ़ में रखेंगे। वही पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से बलिया को ना जोड़े जाने का दर्द भी छलकने लगा है। बैरिया के भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह ने कहा की उन्हें दर्द है की पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से बलिया अछूता रहा। साथ ही पूर्ववर्ती सरकारों सहित भाजपा के मुख्यमंत्रियों पर बलिया जनपद से बेईमानी करने का भी आरोप लगाया और विकास के लिए अपनी ही सरकार के खिलाफ सत्याग्रह करने की बात कही।

बागी बलिया की अलग रही है छवि

देश में प्रथम स्वतंत्रता संग्राम का बिगुल बलिया के मंगल पांडे ने फूंका था। यही नहीं 1947 की आजादी के पूर्व बलिया 1942 में 13 दिनों के लिए आजाद रहा। बलिया ने देश को पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर दिया तो मोदी ने लोकसभा चुनाव में अंतिम चुनावी सभा कर देश के प्रधानमंत्री बने पर इन सबके बावजूद बलिया विकास से अछूता रहाष पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से बलिया को ना जोड़े जाने दर्द अब सामने आने लगा है। भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह का कहना है की उन्हें दर्द है की बलिया एक्सप्रेस वे से अछूता है। विधायक ने स्पष्ट शब्दों में आरोप लगाते हुए कहा कि अब तक यूपी में जितनी भी सरकार आई उनमे भाजपा सरकार भी शामिल है, भाजपा के जितने भी मुख्यमंत्री बने उन्होंने बलिया से बेईमानी की।

बलिया को कुछ न मिलना सवालो ंके दायरे में

भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार पर सवाल खड़ा करते हुए कहा की गोरखपुर में एम्स तथा देवरिया में मेडिकल कालेज और बलिया को कुछ भी नहीं ये बेईमानी नहीं तो क्या है? भाजपा विधायक ने तेवर तल्ख करते हुए कहा की मुख्यमंत्री योगी या उनके कैबिनेट ने अगर बलिया को दरकिनार करने का फैसला लिया है तो मै अपनी ही सरकार में सत्याग्रह करूंगा।

admin

No Comments

Leave a Comment