पीएम मोदी के बहाने प्रियंका को परिवार के पुराने ‘करीबी’ अमिताभ की याद आयी, अभिनेता के बदले नेता चुनने की ‘दुहाई’

मीरजापुर। लोकसभा चुनावों के दौरान एक-दूसरे पर हमला करने में सत्ता पक्ष के संग विपक्ष ने किसी मर्यादा का ध्यान नहीं रखा। पीएम मोदी ने तीन दशक पुराने वारशिप को निजी टैक्सी के तरह गांधी परिवार को इस्तेमाल करने का आरोप लगाया तो इसी बहाने वह दौर भी याद आ गया जब इसके सर्वाधिक करीबियों में बच्चन परिवार था। राजीव गांधी के ससुरालवालों के अलावा कोई इसमें परिजनों केसंग था तो वह मिलेनियम स्टार अमिताभ बच्चन। गांधी परिवार अब उनका नाम लेने से बचता है लेकिन शुक्रवार को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी की तुलना अमिताभ बच्चन से कर दी। उन्होंने कहा कि चुनाव में अभिनेता नहीं, नेता चुनिए। अपनी बात को स्पष्ट करने के क्रम में प्रियंका गांधी ने कहा कि अब आप समझ लीजिए कि आपने दुनिया के सबसे बड़े अभिनेता को पीएम बना दिया है। इससे तो अच्छा आप अमिताभ बच्चन को पीएम बना देते। करना तो किसी को भी कुछ नहीं था आपके लिए।

ललितेश के लिए दूसरी बार आगमन

यूं तो प्रियंका गांधी को पूर्वांचल का प्रभारी बनाया गया है लेकिन यहां से चुनाव लड़ रहे ललितेशपति त्रिपाठी की अहमियत यह है कि दूसरी बार उनकी खातिर प्रचार के लिए प्रियंका पहुंची। प्रियंका वाराणसी एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर के जरिए मीरजापुर की अष्टभुजा पहाड़ी को रवाना हो गई। इसके बाद उनके साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं के अलावा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी, आम आदमी पार्टी और अपना दल, कृष्णा गुट के कार्यकर्ता शामिल हो गए। प्रियंका गांधी के रोड शो के दौरान सड़कें खचाखच भरी रहीं। प्रियंका के ऊपर लोगों ने फूल माला की बारिश की। इस दौरान प्रियंका गांधी लोगों से हाथ मिलाते हुए और उनका अभिनंदन करते हुए आगे बढ़ती रहीं। धीरे-धीरे उनका काफिला डंकीनगंज होते हुए बाटा चौराहे पर पहुंच गया, जहां धक्का-मुक्की के बीच जुलूस धीरे-धीरे आगे बढ़ता रहा। रोड शो के दौरान प्रियंका गांधी ने तीन बच्चों को अपने मंच पर बुलाया और दुलारा था

लगे मोदी-मोदी के नारे तो पहनायी माला

गौरतलब है कि इन दिनों प्रियंका गांधी जहां जाती है वहां मोदी के नारे जरूर लगते हैं। काशी समेत कई स्थानों पर इसे लेकर मारपीट तक हो चुकी है। कुछ ऐसा ही मंजर गिरधर चौराहे पर देखने को मिला जहां भाजपा समर्थकों मोदी-मोदी के नारे लगाए तो वहीं कांग्रेस समर्थकों ने भी चौकीदार चोर है के नारे दोहराये। जब मोदी-मोदी के नारे लग रहे थे तो प्रियंका गांधी ने नारेबाजी करने वाले भाजपा समर्थकों को माला पहना दी। लगभग एक बजे प्रियंका गांधी का रोड शो संकटमोचन मंदिर पहुंच पर खत्म हुआ। इस दौरान कांग्रेस समर्थकों ने प्रियंका गांधी जिंदाबाद के नारे लगाए।

Related posts