पुलिस-प्रशासन में हडकंप क्योंकि जिले में फिर से फूटने लगा ‘कोरोना बम’, प्रवासी कामगारों के चलते पॉजिटिव मरीज

गाजीपुर। लॉकडाउन के पहले चरण में नई दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज से लौटने वाले जमातियों की धर-पकड़ तेजी से कर पुलिस-प्रशासन ने कोरोना संक्रमण फैलने से रोक लिया था। तीसरे चरण के अंतिम दिनों में जब बाहर से प्रवासी कामगार भारी संख्या में लौटने लगे तो एक बार फिर से जिले में कोरोना बम फट गया है। खास यह कि इनमें अधिकांश मुंबई से लौटने वाले हैं। रविवार को मिली जांच रिपोर्ट से स्पष्ट हुआ है कि जिले में फिर कोरोना के 7 नये मरीज मिले हैं। इसके साथ ही जनपद में कोरोना एक्टिव केस की संख्या 28 पहुंच गयी है। इसके अलावा पहले मिले छह मरीज स्वस्थ होकर घर लौट गये हैं।

शहर नहीं गांवों में फैल रहा संक्रमण

पिछले कुछ दिनों से प्रवासी कामगारों ने जिले में कोरोना की रफ्तार बढ़ा दी है। लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव केस में चिंता का विषय यह है कि अब शहर के बदले गांवोों में संक्रमण फैल रहा है। गैर राज्यो से लौटे जिन 7 लोगों की कोरोना जांच के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आयी है वह युसुफपुर,चक बक्स,बभनौली,रेवतीपुर,डिलिया,तालभीतर,युसुफपुर खड़वा गांव के रहने वाले है। कोरोना वायरस से संक्रमित मिले मरीजों में 6 प्रवासी श्रमिक है जबकि एक उसके सम्पर्क में आने के चलते चपेट में आया है। अब सभी को बेहतर इलाज के लिए वाराणसी भेजा जाएगा।

Related posts