संपति के बंटवारे को लेकर तीन पत्नियों के बीच रार में चले डंडे-राड, मशहूर होटल में हुई जमकर तोड़फोड़

मऊ। पारिवारिक सम्पति के बंटवारे को लेकर भाइयों के बीच विवाद अक्सर सुनने को मिलता है लेकिन शहर कोतवाली इलाके में कुछ अलग ही मामला सामने आया। यहां के सबसे पुराने और मशहूर शाहजहां होटल में शनिवार को जमकर तोङ फोड़ हुई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुची पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने लेकर आयी। आरम्भिक पूछताछ में चौंकाने वाला मामला सामने आया। दरअसल शाहजहां होटल के मालिक डा. शमीम की तीन पत्नियां शरजहां, नरगीश जहां और साहिस्ता बानों है। शरजहां की मौत हो चुकी है इसलिए नगरीश जहां और साहिस्ता बानों में बटवारे का विवाद न्यायालय में चल रहा है। इसी विवाद को लेकर होटल में यह घटना हुई। बंटवारे का मामला कोर्ट में चल रहा है, इसलिए पुलिस आगे की कानूनी कार्यवाही में जुटी गयी।

कब्जा लेने के लिए पहुंची एक पत्नी

इंस्पेक्टर कोतवाल राम सिहं ने बताया कि शाहजहां होटल के मालिक डा. शमीम की तीन पत्नियां शरजहां, नरगीश जहां और साहिस्ता बानों है। शरजहां की मौत हो चुकी है इसलिए नगरीश जहां और साहिस्ता बानों में बटवारे का विवाद न्यायालय में चल रहा है। इसी विवाद को लेकर होटल में तोङफोङ की घटना की गयी। एक पक्ष की साहिस्ता बानों के अनुसार वह अपना हक लेने के लिए होटल में पहुची थी। नरगीश जहां के पुत्र जावेद ने होटल में तोङफोड़ करवा कर सारा आरोप उनके उपर लगा दिया। इसलिए हम पुलिस से मांग कर रहे है कि जब तक मामला न्यायालय में है तब तक होटल को बंद किया जाये। अगर होटल चालू रहेगा तो हम अपना हक लेने आयेगे।

दूसरे पक्ष ने दी यह सफाई

दूसरी तरफ नरगीश जहां के पुत्र शमीम ने कहा कि हमारे मृतक पिता ने साहिस्ता बानों के नाम से कई सम्पत्ति कर रखी है। इसके बाद भी बंटवारे का मामला न्यायालय में है। न्यायालय का फैसला आने का इंतजार है। जो फैसला आयेगा उसके माना जायेगा। फिलहाल पुलिस दोनों पक्ष से तहरीर ले कर आगे की कानूनी कार्रवाही कर रही है।

Related posts