ग़ाज़ीपुर।  रेवतीपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में आम की सूखी लकड़ी को लेकर दो पक्षों में हुए जमकर  खूनी संघर्ष में दोनों पक्षों के कुल 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए । घटना की खबर ग्रामीणों को लगते ही लोगों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई। लोगों ने इस बात की सूचना तुरंत रेवतीपुर थाना पुलिस को दी। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन फानन में प्रभारी निरीक्षक भारी दल बल के साथ घटनास्थल पहुंच घायलों को रेवतीपुर  चिकित्सालय ले गए जहां घायलों की हालत गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया। पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा ने  स्थिति को देखते हुये  मौके पर पुलिस उपाधीक्षक रामबहादुर सिंह के नेतृत्व में सुहवल, रेवतीपुर आदि थानों की  भारी पुलिस बल को तैनात किया। गंम्भीर रूप से घायल शिवकुमार यादव 52  की वाराणसी ले जाते वक्त रास्ते में ही मौत हो गई।

आमने-सामने हुआ परिवार

ग्रामीणों के अनुसार आज सुबह लगभग 9 बजे रेवतीपुर थाना क्षेत्र के साईंतबाध गाँव निवासी सत्यनारायण यादव एवं बाला यादव के बीच बटंवारे के बाद लकडी के आम को अपने  हिस्से में लेने के लिए बगीचे में अपने-अपने परिजनों के साथ इकट्ठा हो गये ।इसी दौरान सत्यनारायण परिजनों संग आम की सूखी लकडी को ले जाने की तैयारी करने लगे, तो विपक्षी बाला यादव ने आपत्ति की, इसपर उनके विपक्षी सत्यनारायण जबरदस्ती ले जाने लगे इसपर बाला यादव के परिजन गाली गलौज करने लगे इसपर आपत्ति करने पर बाला यादव व सत्यनारायण के बीच  अचानक  लाठी ,धारदार हथियार ईंट पत्थर चलने लगा, जमकर हुये संघर्ष में एक पक्ष के  सत्यनारायण 60 ,शिवकुमार 52,सुग्रीव 35 ,व दुखख्न यादव 55,जबकि दूसरे पक्ष से बाला यादव 52,अखिलेश 27,व ओंमप्रकाश 22 गंभीर रूप से जख्मी हो गये ।

गांव में पुलिस बल तैनात

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुँच सभी घायलों को रेवतीपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया जहाँ स्थिति गंभीर देख चिकित्सकों ने  उन्हें जिलाचित्सालय रेफर कर दिया ,इसी दौरान गंभीर रूप से घायल शिवकुमार यादव को चिकित्सकों ने वाराणसी रेफर कर दिया, जहाँ रास्ते में के जाते समय उनकी मौत हो गई।

admin

No Comments

Leave a Comment