वाराणसी। बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर बृहस्पतिवार को दिल्ली से आने वाली इंडिगो एयरलाइंस के विमान 6ई-308 में सवार दो व्यक्तियों के पास से आयकर विभाग की टीम 8 किलो सोने के आभूषण बरामद किया। विमान से उतरने के बाद पकड़े गए दोनों व्यक्तियों से हवाई अड्डे के मुख्य टर्मिनल भवन में स्थित वीआईपी लाउंज में दोपहर बाद तक पूछताछ होती रही। दोनों व्यक्ति खुद को राजकोट (गुजरात) का र्स्वण व्यवसायी बता रहे थे। काफी देर तक पड़ताल चलती रही। बाद में अपर आयकर आयुक्त उमेश पाठक का कहना था कि सम्बंधित व्यापारी के राजकोट स्थित प्रतिष्ठान के खाता-बही की जांच में खरीद बिक्री की बात सही पायी गयी, इसकी पुष्टि होने बाद सोने को छोड़ दिया गया है।

सटीक सूचना पर हुई थी कार्रवाई

सूत्रों के मुताबिक आयकर विभाग की टीम को सूचना मिली कि दिल्ली से वाराणसी आने वाले इंडिगो एयरलाइंस के विमान से 8 किलो स्वर्ण आभूषण लेकर दो स्वर्ण व्यवसायी वाराणसी पहुंचेगे। इस पर कर चोरी के आशंका को ध्यान में रखते हुए आयकर विभाग की टीम तत्काल हवाई अड्डे पर पहुंची और विमान आने से पहले दोनों यात्रियों को पकड़ने के लिए पूरी तैयारी कर ली। विमान जैसे ही हवाई अड्डे पर उतरा दोनों यात्रियों को टर्मिनल भवन में प्रवेश करते ही हिरासत में ले लिया गया। उनके पास से लगभग 8 किलो सोने के आभूषण पाए गए जिससे उनको हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन में स्थित वीआईपी लाउंज में बैठाया गया तथा आभूषण से संबंधित कागजात मांगे गए। पकड़े गए स्वर्ण ब्यवसायी संदीप पारिख व नवीन पारिख दोनों राजकोट गुजरात के निवासी बताए जा रहे हैं। स्वर्ण आभूषण कहाँ ले जाना था तथा उसके कागजात से सम्बंधित जानकारियों के लिए दोपहर बाद तक दोनों से पूछताछ चलती रही।

पिछले माह भी 7 किलो आभूषण पकड़ा गया था

इस एयरपोर्ट पर सोने के आभूषण लेकर पकड़े जाने की यह कोई पहली घटना नहीं है। इसके पहले भी पिछले महीने 7 किलो स्वर्ण आभूषण के साथ थानेरामपुर गांव (फूलपुर) निवासी रतन सेठ नामक स्वर्ण व्यवसाई को पकड़ा गया था। रतन सेठ से भी सुबह से शाम तक पूछताछ किया गया था लेकिन कागजात ना दिखा पाने के चलते आयकर विभाग की टीम सोना कब्जे में लेने के साथ ही स्वर्ण व्यवसाई को लेकर बनारस चली गई थी। स्वर्ण व्यवसाई द्वारा कागजात नहीं दिखाने पर स्वर्ण आभूषण जब्त कर लिया गया था।

admin

No Comments

Leave a Comment