वाराणसी। पाकिस्‍तान के विवादित इलाके बलूचिस्तान मई आजादी की मांग एक बार फिर से उठने लगी है। वाराणसी में ‘वायस फॉर बलोच मीसिंग परसंस’ के वाइस चेयरमैन मामा कदीर बलोच ने बुधवार को पीएम मोदी से मार्मिक अपील की है। उन्‍होंने मांग की है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी बंगलादेश की तरह ही पकिस्तान से बलूचिस्‍तान को आजाद कराये। उन्होंने कहा कि यदि भारत के प्रधानमंत्री इस बात को आगे बढ़ाएंगे तो विश्व के सभी मुल्क हमारी आज़ादी के लिए आगे आएंगे। वहीं उन्होंने मीडिया के सामने बलूचीस्तान में होने वाली बर्बरता का भी ज़िक्र किया।

45 हज़ार लोग हैं लापता 
मामा कादिर बलोच की मानें तो इस समय 45 हजार बलूच लोग लापता हैं। यही नहीं पिछले 17 सालों में करीब 10 हजार लोगों की लाशें बलूचिस्तान के बहुत सारे प्रांतों में फेंके हुए पाए गए हैं। कुछ ऐसी भी लाशें मिली हैं जिनके साथ अमानवीय ढंग से तेजाब और केमिकल उनके चेहरे पर डाला गया था जिस कारण उनकी पहचान भी नहीं की जा सकी। कुछ लाशों को अमानवीय तरीके से शरीर के अनेक जगहों पर जैसे हाथ, पैर, पेट वगैरह में ड्रिलिंग मशीन से छेद किया गया था।

बांग्लादेश की तरह हमें भी चाहिए आज़ादी 
‘वायस फॉर बलोच मीसिंग परसंस’ के वाइस चेयरमैन मामा कदीर बलोच ने कहा कि हम अपील करना चाहते हैं कि बलोच आवाम और नेता इस वक्त बहुत खुश हैं कि बलूचिस्तान के लिए नरेंद्र मोदी ने बात की। इस बात से पकिस्तान के लोग बहुत नाराज़ हैं। हमारी मांग है कि नरेंद्र मोदी इस बात को आगे ले जायें और हमारी आज़ादी के लिए बात करें। अगर भारत सरकार ये बात करेगी तो भारत के बाद अमेरिका, ब्रिटेन सब हमारे साथ खडा होगा और हमें आज़ादी मिलेगी।

admin

No Comments

Leave a Comment