एयरपोर्ट पर दिन पर चला एक्शन-रियेक्शन के साथ सियासी ड्रामा, रोक-टोंक,नोक-झोंक के संग ‘मेलजोल’

वाराणसी। बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर शनिवार को दिन भर सियासी ड्रामा चलता रहा। यहां पर प्रशासन पहले से एक्शन मोड में था जिसके बाद रियेक्शन भी देखने को मिला। नजीता, दिन भर एयरपोर्ट परिसर छावनी में तब्दील रहा और बदलते घटनाक्रम को जानने के लिए मीडिया की हलचल रही। शनिवार की शुरूआत तृणमूल कांग्रेस के सांसदो व कांग्रेस नेताओं के आगमन के साथ हुए जिसके दौरान चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रही। दोनो पार्टियों के नेता एयरपोर्ट पर विमान से पहुंचे उन्हे एप्रन से ही हिरासत में ले लिया गया। इन्हें ससम्मान वीवीआईपी लाउन्ज में बैठाया गया। कांग्रेस के नेता एयर इंडिया की विमान से 11:45बजे व तृणमूल कांग्रेस के नेता 9:10 बजे एयरपोर्ट पर पहुंचे थे।

टीएमसी प्रतिनिधिमंडल से मिली प्रियंका वाडा

चुनार किले में अपना धरना-प्रदर्शन खत्म कर काशी में दर्शन पूजन करने के बाद एयरपोर्ट पर पहुंची प्रियंका गांधी ने यहां धरने पर बैठे तृणमूल कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। लगभग दो मिनट तक एकांत में गुफ्तगू के बाद विमान पकड़ने के लिए टर्मिनल भवन में प्रवेश कर गई। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के सांसदों से कहा कि किसी भी पीड़ित के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए। यह कैसा तरीका है कि किसी को भी पीड़ितों या उनके परिवार के लोगों से मिलने की इजाजत नहीं दी जा रही है। प्रतिनिधिमंडल से यह भी कहा कि घटना की न्यायिक जांच होनी चाहिए जिससे पीड़ितों को न्याय मिल सके।

अजय राय-ललितेश समेत तमाम दिग्गज नहीं जा सके

प्रियंका वाड्रा के साथ आये पूर्व विधायक अजय राय और ललितेश त्रिपाठी ने भीतर जानेकी कोशिश की लेकिन उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने रोक दिया। यही नहीं पूर्व सांसद रमाकांत यादव भी नहीं जा सके। इससे पहले एयरपोर्ट पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राज बब्बर राजीव शुक्ला व जतिन प्रसाद को एप्रन पर ही हिरासत में ले लिया गया हिरासत में लेने के बाद एयरपोर्ट के वीआईपी लाउंज में बैठाया गया। वाराणसी एयरपोर्ट पर लगभग 1:20 घंटे हिरासत में लिए जाने के बाद दोपहर 1:05 पर उन्हे चुनार जाने के लिए अनुमति मिली।

Related posts