निजी ही नहीं सरकारी एजेंसियां प्रदूषण को लेकर रहे सावधान, कमिश्नर ने तेवर दिखाते हुए जुर्माना लगाने का दिया आदेश

वाराणसी। प्रदूषण रोकने की खातिर निजी कंपनियों से मानक पूरे कराये जाते हैं लेकिन सरकारी निर्माण एजेंसियों की तरफ से अधिकारी आंख मूंद लेते थे। नियमों का पालन करने को लेकर कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने तेवर दिखाया है। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि निजी कंपनियों के समान ही सरकारी निर्माण एजेंसियों पर भी कड़ाई से जुर्माना लगाएं। कमिश्नरी सभागार में काशी के प्रदूषण को खतरनाक स्तर तक पहुंच जाने पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कमिनर प्रदूषण नियंत्रण विभाग सहित सभी निर्माण संबंधी कार्यदाई संस्थाओं की कार्यशैली पर अत्यंत नाराज दिखे।

प्रदूषण मानकों की ही नहीं थी जानकारी

कमिश्नर ने एनजीटी के प्रदूषण मानकों के बारे में किसी कार्रदाई संस्था के विभागीय अधिकारियों को जानकारी न होने पर प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी को कड़े निर्देश दिए कि सभी निर्माण एजेंसियों को इसकी जानकारी देने के साथ- साथ एनजीटी के मानकों का पालन हर हालत में सुनिश्चित कराएं। कड़े निर्देश देते हुए कहा कि निर्माण एजेंसिया कार्यस्थल पर स्वयं प्रदूषण को रोकने के लिए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड व एनजीटी के मानकों का पालन आज से ही सुनिश्चित करें। क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी को निर्देश दिया कि प्रदूषण रोकने में नियमों का पालन न करने पर निजी कंपनियों के समान ही सरकारी निर्माण एजेंसियों पर भी कड़ाई से जुर्माना लगाएं। प्रदूषण पर नियंत्रण रखने के लिए कंस्ट्रक्शन साइटो पर रखे मैटेरियल को ढक कर रखने, मिक्सिंग प्लांट व आसपास पानी का छिड़काव कराते रहने तथा निमार्णाधीन भवनों को हरे परदे से कवर करने की कार्यवाही हर हाल में सुनिश्चित करें।

सड़क निर्माण में पूरे किये जाये यह मानक

एयर पोलूशन बढ़ाने में रोड डस्ट का 92 प्रतिशत योगदान की जानकारी होने पर नगर निगम, पीडब्ल्यूडी व वीडीए के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि स्थानीय स्तर पर जो भी सड़कों की कार्य योजना बने उसमें सड़के एंड टू एंड बनाई जाए। दोनों तरफ फुटपाथ की टाइलिंग का भी प्रावधान अवश्य किया जाए तथा निर्माण में एक इंच भी खाली जगह न छोड़ा जाए। सीसी रोड और पाथवे पक्का निर्माण कराएं। बैठक में वीसी वीडीए राहुल पांडे, ट्रांसपोर्ट विभाग, गेल इंडिया लिमिटेड, लोक निर्माण विभाग, नगर निगम सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Related posts