बलिया। अपने बयानो से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान देकर सुर्खियों में छाये हुए हैं। भाजपा के बैरिया से विधायक सुरेन्द्र सिंहके अनुसार मुस्लिम शासको के नाम बने रोड और स्मारक का नाम बदल देना चाहिए ताजमहल को राम महल या कृष्ण महल कर देना चाहिए वही विक्टोरिया पैलेश को जानकी पैलेश या पार्वती पैलेश कर देना चाहिए। उनका कहना था कि महाराणा प्रताप से लेकर शिवाजी तक दूसरे प्रेरक महापुरूषों के नाम पर स्मारक होने चाहिये। मुस्लिम नाम से इतना ही प्रेम है तो बहादुरशाह जफर या पर्व राष्ट्रपति एपीजे कलाम के नाम क्यों नहीं लिये जाते। जिस तरह मुगलसराय का नाम बदल कर दीनदयाल उपाध्याय नगर रखा गया वैसे ही दूसरे स्थानों के लिए भी सरकार को पहल करनी चाहिये।

स्वतंत्रता से भारत है हिन्दू राष्ट्र

भाजपा विधायक का कहना थ कि वह पहले संघ के स्वयंसेवक हैं और बाद में कुछ और। संघ के स्थापक डा. हेडगेवार का कहना था कि जब धर्म के आधार पर अलग राष्ट्र पाकिस्तान बनाया गया तो फिर यह हिन्दू राष्ट्र खुद ब खुद हो गया। यह बात दीगर है कि वोट बैंक के लालच में ऐेसा करना तो दूर कहने से दशकों तक राजनैतिक दल बचते रहे। सुरेन्द्र सिंह का कहना था कि मेरा बस चले तो मुस्लिम शासको के नाम बने रोड और स्मारक का नाम बदल कर दूसरा कर देता। यह उन दिनों की याद दिलाते हैं जब हिन्दुओं पर अत्याचार कर उन्हें धर्म परिवर्तित करने पर विवश किया गया था।

admin

No Comments

Leave a Comment