वाराणसी। मिनी बंगाल के नाम से विख्यात काशी में दुर्गापूजा की धूम रहती है। त्योहार में तीन सप्ताह का समय शेष है जबकि सड़को का हाल बेहाल है। प्रदेश के विधि-न्याय, सूचना, खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री डा. नीलकंठ तिवारी के क्षेत्र में आधे से अधिक पडाल लगते हैं। शनिवार को सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक कर में उन्होने चेतगंज, लल्लापुरा, लक्सा, मिश्रपोखरा, गोदौलिया एवं बेनियाबाग आदि क्षेत्र में अधिक हो रही विद्युत कटौती पर नाराजगी जताते हुए तत्काल सुधार लाने का निर्देश दिया। साथ ही नगर क्षेत्र के सड़कों को दुगार्पूजा से पूर्व मरम्मत कराये जाने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि जिन मार्गो पर भूमिगत वायरिंग कार्य पूर्ण हो चुके है उन सड़को एवं गलियों का मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में नगर निगम, विद्युत एवं आईपीडीएस के अधिकारियों की कमेटी बनाकर 30 सितम्बर तक हर हालत में सत्यापन करा लिया जाये। इसके बाद जो सड़कें एवं गली अभी तक नहीं बन पाये है, उन्हे अभियान चलाकर दुगार्पूजा से पूर्व मरम्मत करा दिया जाय। सत्यापन के दौरान गलत रिर्पोटिंग अथवा गड़बड़ी पाये जाने पर संबंधित ठीकेदार एवं अभियंताओं के विरूद्व कार्यवाही किये जाने का भी निर्देश दिया। उन्होने डीएम को दुर्गापूजा समिति के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर पण्डालों के आसपास की सड़को का मरम्मत के साथ ही प्रकाश आदि व्यवस्था दुरूस्त कराये जाने का निर्देश दिया।

15 दिसंबर तक नहीं बनी सड़के तो बांध ले बोरिया-बिस्तर

राज्यमंत्री ने 15 दिसम्बर से पूर्व शहर की सड़कों को धूलमुक्त बनाये जाने हेतु नगर निगम एवं पीडब्ल्यूडी के अभियंता को निर्देशित किया। उन्होने जोर देकर दो टूक कहा कि 15 दिसम्बर के बाद कोई भी सड़क, गली एवं नाली खराब नही रहना चाहिये। एक सप्ताह से हो रहे विद्युत कटौती पर गहरी नाराजगी जताते हुए पूर्वाचल विद्युत वितरण निगम के एमडी को वाराणसी को विद्युत ट्रिपिंग मुक्त किये जाने का निर्देश दिया। पूछा जब पीएम का ससंदीय क्षेत्र नो-ट्रिपिग जोन घोषित है। तो फिर बिजली कटौती कैसे हो रहा है। फाल्ट मरम्मत का बहाना अब नही चलेगा। उन्होने मेजर एवं माइनर फाल्ट की मानीटरिंग करने का निर्देश देते हुए कहा कि बिना फाल्ट के विद्युत कटौती पर जिम्मेदारी निर्धारित कर कार्यवाही अवश्य किया जाये।

admin

No Comments

Leave a Comment