वाराणसी। सपने पर तो किसी की रोक है नहीं। किसी समय बसपा के संस्थापक मान्यवर कांशीराम ने भी पीएम बनने का ख्वाब देखा था लेकिन सभी जानते हैं कि वह पूरा नहीं हुआ। अब मायावती भी देख रही है। जमीनी हकीकत तो यह है कि 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी एक भी सीट नहीं जीत सकी थी। जब तक नरेंद्र मोदी पीएम हैं तबतक किसी का नम्बर लगने वाला नहीं है। लोग सिर्फ पीएम बनने का केवल सपना देखते रहें। शुक्रवार की सुबह 10 बजे वाराणसी पहुंचे केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री व रिपब्लिकन पार्टी आॅफ इंडिया के प्रमुख रामदास अठावले ने महागठबंधन को लेकर पूछे गये सवालों का पूरी बेबाकी से उत्तर दिया।

जो हुआ चार साल में काग्रेंस नहीं कर सकी 60 में

मीडिया से बातचीत के दौरान रामदास अठावले ने कहा केंद्र सरकार ने जो काम पिछले चार वर्ष में किया उसे कांग्रेस ने 60 सालों में पूरा नहीं किया था। जनधन योजना, कौशल्या योजना, फसल बीमा योजना सहित कई योजनाएं हैं जिनका सीधा लाभ जनता को मिला है। विपक्ष गठबंधन कर रहा है लेकिन सफल नहीं होगा। आगामी लोकसभी चुनाव में भी यूपी में बीजेपी 50 से अधिक सीटें जीतेगी। वहीं शिवसेना की नाराजगी पर उन्होंने बताया की सरकार में शिवसेना के भी एक दो मंत्री होने चाहिए थे, हो सकता है चुनाव से पहले बात हो जाए और उनकी नाराजगी दूर हो जाए। केन्द्रीय मंत्री बाबतपुर एयरपोर्ट से सगुनहा स्थित बबलू मिश्रा के आवास पर पहुंचे जहां जेपी दुबे, राजू मिश्रा, अजय मिश्रा, हौसिला पांडेय सहित दर्जनों लोगों ने अगवानी किया। वहीं मीडिया से बात करने के बाद वे इलाहाबाद चले गए।

admin

No Comments

Leave a Comment