वाराणसी। बसपा अध्यक्ष और पूर्व सीएम मायावती ने पार्टी के राज्य सभा सांसद व पूर्व में पश्चिम क्षेत्र के कोर्डिनेटर रहे मुनकाद अली के बेटे को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया। प्रेस को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि मुनकाद अली के बेटे की शिकायतें मिल रही थी। अपने पिता के प्रभाव का इस्तेमाल कर वे जमीन कब्जाने में लगे थे। शिकायत मिलने के बाद उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया।

बीजेपी पर माया का हमला

मायावती ने आज कहा कि उनकी वजह से बाबा साहेब अंबेडकर को भारत रत्न से सम्मानित किया गया। उस समय केंद्र में वीपी सिंह की सरकार थी। मैंने समर्थन के बदले वीपी सिंह से बाबा साहेब को भारत रत्न सम्मान देने की शर्त रखी। जिसे उन्होंने मान लिया। मायावती ने फिर दोहराया कि बीजेपी ने ईवीएम के कारण निकाय चुनाव में जीत हासिल की है। मायावती ने कहा कि गुजरात चुनाव से पहले बाबा साहेब के नाम पर स्मारक का उदघाटन कर बीजेपी राजनीतिक फायदा लेना चाहती है। लेकिन जनता बीजेपी के साथ नहीं आएगी।

admin

No Comments

Leave a Comment