छेड़खानी और दुष्कर्म प्रयास का फर्जी मुकदमा वापस न लेने पर सामूहिक आत्मदाह की चेतावनी

वाराणसी। शंभूपुर गांव (जंसा) निवासी महेंद्र मिश्रा व जितेंद्र पाठक समेत सात लोगों के खिलाफ जमीन संबंधी विवाद के मामले में एक महिला द्वारा मारपीट व घर में घुसकर बलात्कार के प्रयास का मुकदमा थाने में दर्ज करवा दिया गया है। आरोप है कि एक साल की अवधि में महिला व उसके सहयोगियों द्वारा छेड़खानी, मारपीट व बलात्कार के प्रयास का तीन बार मुकदमों दर्ज करवा चुके हैं। इससे पीड़ित परिवार के लोग काफी परेशान हो चुके हैं। इस मामले में सोमवार को पीड़ित पक्ष ने एसएसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई है। साथ ही कहा है कि न्याय नहीं मिला तो हम लोग आत्मदाह कर लेंगे। जन्सा पुलिस का कहना है कि महिला द्वारा छेड़खानी का मुकदमा दर्ज कराया गया है जिसकी पुलिस जांच कर रही है

दरोगा की शह पर महिला कर रही उत्पीड़न

पीड़ितों का आरोप है कि थाने के एक दरोगा महिला के पक्ष से होकर हम लोगों को काफी प्रताड़ित कर रहे हैं। स्क्रिप्ट वह लिखते हैं और महिला उसके मुताबिक अभिनय कर मुकदमा लिखवा देती है। विवाद जमीन को लेकर है और एक साल में तीन बार शारीरिक शोषण का आरोप लगाते हुए रपट दर्ज की गयी। रोज-रोज की जलालत से बेहतर है कि एक साथ खत्म हो जायें। बहरहाल निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई का भरोसा दिला कर सभी को वापस भेजा गया।

Related posts