सर्राफा दुकान में दिनदहाड़े डकैती में कई जख्मी, नप गये दो इंस्पेक्टरों से लेकर कई पुलिसकर्मी

आजमगढ़। दुबरा बाजार (बरहद) में बुधवार को की दोपहर तीन बजे दो बाइक पर सवार आधा दर्जन नकाबपोशों ने आभूषणों की दुकान पर जमकर लूटपाट की। सोना-चांदी लूटने का जब व्यवसाई ने विरोध किया तब बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग की जिसमें 5 लोगो को गोली लगी। सभी गंभीर रूप से घायल हो गए। बाजारवासियों ने लामबंद होकर पथराव किया तो सभी बदमाश भाग गए। बदमाशों ने 12 किलो चांदी नौ सौ ग्राम सोना जिसकी कीमत 42 लाख रुपए है लूट लिया। बदमाशों की फायरिंग में प्रमोद राजभर उर्फ अंधू (40) निवासी गांव तूंगी रसूलपुर दुबरा के सीने में गोली लगी जबकि इसी गांव के रामफेर बिंद (38) के पीठ व जांघ में गोली लगी। इसकी इलेक्ट्रॉनिक की दुकान बाजार में है। इसके अलावा सैलून संचालक गुड्डू (32) के जांघ व पैर में तथा सलीम उर्फ घुरहू (10) की पीठ में लगी और किराना की दुकान चलाने वाले अशोक जायसवाल (45) के पैर-हाथ में गोली लगी।

आधे घंटे तक पुलिस थी नदारद

शर्मनाक रहा कि व्यापारियों ने बदमाशों पर पथराव किया तथा करीब आधा घंटे तक उन्हे घेरे रखा पर बदमाश अंधाधुंध फायरिंग करते हुए भागने में सफल रहे। फायरिंग में घायल पांचों व्यापारियों को हायर सेंटर ले जाया गया है। व्यापारियों एवं बदमाशों के मध्य संघर्ष के दौरान पुलिस का अता-पता नहीं था। अलबत्ता बाद में पहुंची पुलिस ने मामले को मैनेज करने का भरसक प्रयास किया।

एसपी ने की सख्त कार्रवाई

बरदह में घटित घटना के सम्बन्ध में अपेक्षित स्तर की पुलिसिंग न करने के कारण प्रभारी निरीक्षक बरदह प्रशांत श्रीवास्तव, हल्का प्रभारी एसआई कन्हैया लाल मौर्य तथा बीट आरक्षी संतोष यादव व अमित यादव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा स्वाट टीम प्रभारी इंस्पेक्टर रत्नेश कुमार सिंह को पुलिस लाइन से सम्बद्ध किया गया है। बरदह पर नये प्रभारी के रुप में इंस्पेक्टर नन्द कुमार तिवारी तथा स्वाट प्रभारी के रुप में इंस्पेक्टर आनन्द कुमार सिंह को नियुक्त किया गया है। पीआरवी 1040 के एसआई स्वामी नाथ यादव, कांस्टेबिल दीवाकर यादव को भी निलंबित कर दिया गया है। होमगार्ड विनोद राय को विभागीय कार्यवाही करने हेतु कामण्डेट (होमगार्ड) को रिपोर्ट भेजी गयी है।

Related posts