चन्दौली। अमृतसर रेल हादसे पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने बड़ा बयान दिया है। मनोज सिन्हा के मुताबिक अमृतसर के आयुक्त ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि रावण दहन के कार्यक्रम की कोई परमिशन नहीं थी। बावजूद इसके यदि स्थानीय प्रशासन ने सावधानी बरती होती तो इस हादसे को टाला जा सकता था। समूचे मामले रेलवे को क्लीनचिट देते हुए कहा कि इस कार्यक्रम की जानकारी रेलवे को नहीं थी। यदि होती, शायद ये हादसा न होता। कुरेदे जाने पर उनका कहना था कि रेलवे को तो हादसे के बाद भी स्थानीय प्रशासन की तरफ से कोई जानकारी नहीं दी गयी थी। हालांकि उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम पर अनावश्यक राजनीति न करने की बात भी कही।

फुट ओवरब्रिज का किया शिलान्यास

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय के चन्दौली संसदीय के सकलडीहा तथा धीना रेलवे स्टेशन पर फुट ओवर ब्रिज का शिलान्यास करते हुए रेल राज्यमंत्री ने अपने साढ़े चार वर्षो की उपलब्धियां गिनाया और कहा कि जो भी जनता के लिए जरूरत होगी उसे पूरा किया जाएगा। पीएम का यूपी-बिहार में रेल सुविधाओं को लेकर विशेष जोर है। पहले यात्री सुविधाओं के लिए 48 हजार करोड़ का बजट था जो एब बढ़ कर 148 हजार करोड़ हो चुका है। स्थानीय सांसद की अनुपस्थिति पर सफाई देते हुए कहा कि आवश्यक बैठक में हिस्सा लेने की खातिर उन्हें आगरा जाना पड़ा।

admin

No Comments

Leave a Comment