ग़ाज़ीपुर। 16 जुलाई 1991 को पहली बार अप्रतिम प्रयोग देश के समाजसेवियों ने किया और एक ट्रेन को अस्पताल के रूप में बदल कर उससे समाज की सेवा को नया अवसर उपलब्ध कराया। ये बातें केंद्रीय रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने स्वास्थ्य व्यवस्थाओं से सुसज्जित लाइफ लाइन एक्सप्रेस चिकित्सा व्यवस्था के उदघाटन अवसर पर कही। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था ने आज तक गरीबों और वंचित लोगों के बीच जो महत्व व लोकप्रियता हासिल किया है वह शायद किसी और को नहीं मिली है। भारतीय रेलवे के सहयोग से स्थापित व्यवस्था में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विशेष सहयोग प्राप्त है। कहा वास्तव में इंपैक्ट फाउंडेशन के लोगों ने सराहनीय प्रयास किया है 2 वर्ष पूर्व जनपद में आई इस व्यवस्था के तहत 8000 मरीजों को इस सुविधा का लाभ दिया गया था लेकिन कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी की सुविधा इस व्यवस्था में शामिल नहीं थी। जिसे इस बार शामिल किया गया है, गाजीपुर पहला जनपद है जिसे दोबारा इस सेवा अवसर का लाभ मिल रहा है।

769

जिले के लिए किसी वरदान से कम नहीं है

विगत तीन दिनो मे लाइफ लाइन ट्रेन के कैंसर परीक्षण में उभरकर सामने आया है कि अबतक 200 मुहं के कैसंर रोगी, 108 महिलाओं ने पंजीकरण कराया है तथा इस रोग के लक्षण परिलक्षित हुए हैं। मा मंत्री जी कहा कि हमारे जनपद में चिकित्सा की व्यवस्था अच्छी नहीं है। परंतु एक अच्छा प्रयास किया गया है। पर ग्रामीण स्तर के लिए पुर्व मे चलाई गयी सचल चिकित्सा वैन की संख्या 25 जनवरी से 2 और बढाई जाएगी।और जानकारी देते हुए बताया कि इस ट्रेन द्वारा अबतक 10 ,लाख से ज्यादा लोगों का इलाज व लगभग 13300 सफल आपरेशन किया जा चुका है। लाइफ लाइन एक्सप्रेस भारत की एक मेव विश्व कि प्रथम चिकित्सा रेल है।इम्पैक्ट इंडिया फाउंडेशन व भारतीय रेल का संयुक्त उप क्रम है। गाजीपुर मे इम्पैक्ट इडिया फाउंडेशन का यह 188 वां प्रोजेक्ट आदित्य बिडला समुह के द्वारा प्रायोजित निशुल्क गाजीपुर जनपद वासियों के लिए लगाया गया है। इस अवसर पर विधायक डा संगीता बलवन्त, जिलाधिकारी श्री के बाला जी,भाजपा जिलाध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, सुनील सिंह,प्रभुनाथ चौहान, रामतेज पांडेय,विजेन्द्र राय,ओमप्रकाश राय, नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती सरिता अग्रवाल, विनोद अग्रवाल, सिद्धार्थ राय,अनिल पांडेय अमरेश गुप्ता, शशिकान्त शर्मा भाजपा जिला मीडिया प्रभारी सहित डा रजनीश गोर्थ चीफ आपरेटिंग आफिसर इम्पैक्ट इंडिया, डा याज्ञनिक वजा डि प्रोजेक्ट डाइरेक्टर एवं सिद्धार्थ राय का अतुलनीय सहयोग सहित रेलवे व दुर संचार के अधिकारी उपस्थित थे। अध्यक्षता रेल मंडल प्रबंधक  राजीव अग्रवाल व संचालन  व्यासमुनी राय ने किया।

admin

No Comments

Leave a Comment