कृष्णानंद राय हत्याकांड: अफजाल के वकील पर लगा जुर्माना, अगली सुनवाई बुधवार को

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में वोटिंग खत्म होने के साथ अंसारी परिवार को एक बार फिर से कानूनी मोर्चे पर जूझना पड़ रहा है। डेढ़ दशक पुराना मोहम्मदाबाद के विधायक कृष्णानंद राय समेत सात लोगों की हत्या के मामले में फैसले की घड़ी नजदीक आती जा रही है। कोर्ट ने भी इस मामले में किसी तरह की मोहलत न देने का मन बना लिया है। ऐसा इस खातिर प्रतीत हो रहा है कि सोमवार की सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने मामले के आरोपित संख्या तीन पूर्व सांसद अफजाल अंसारी के वकील राजीव मोहन पर एक हजार का जुर्माना लगाया है। माना जा रहा है कि कई बार पुकार के बावजूद वकील के उपस्थित न होने पर कोर्ट ने ऐसा सख्त रुख अख्तियार किया।

सीबीआई की तरफ से दाखिल होगा लिखित जवाब

हाई प्रोफाइल पोलेटिकल मर्डर के मामले में अभियोजन की तरफ से बहस पूरी हो चुकी है और साक्ष्य भी दिये जा चुके हैं। बचाव पक्ष अपनी तरफ से सफाई पेश कर रहा था। लंंबे समय से मामले को लंबित रखने की प्रवृति भांप पर कोर्ट के तेवर कड़े हो चुके हैं। इस मामले में सीबीआई की तरफ से अधिवक्ता का कहना थ कि वह अपनी तरफ से जो जवाब मांगा गया वह लिखित रूप में अगली तिथि पर उपलब्ध करा देंगे। कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 22 मई की तिथि नियत की है। साजिशकर्ता के रूप में आरोपित मऊ सदर के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट ने 27 मई को तलब किया है। माना जा रहा है कि जल्द इस मामले में फैसला आ सकता है।

Related posts