वाराणसी। जिले की सियासत में मामा-भांजी की जोड़ी अपने कारनामों से सुर्खियों में बनी है। एक ओर जिला पंचायत अध्यक्ष अपराजिता सोनकर हैं तो दूसरी ओर उनके मामा और अजगरा विधानसभा से विधायक कैलाश सोनकर। अभी तक अपराजिता सोनकर ही भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरी थीं, अब उनके मामा कैलाश सोनकर पर भी गरीबों का पैसा हड़पने का गंभीर आरोप लगा है। आरोप है कि कैलाश सोनकर ने लोन दिलाने के नाम पर सैकड़ों लोगों के साथ फर्जीवाड़ा किया है। विधायक के फर्जीवाड़े के खिलाफ मंगलवार को पांच लोगों ने जिला मुख्यालय पर मुंडन कराया और पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की।

1238

करोड़ों का है पूरा घोटाला

प्रदर्शनकारियों के मुताबिक कैलाश सोनकर ने खादी और ग्रामोद्योग आयोग के अधिकारियों के साथ मिलकर 400 करोड़ रुपए के घोटाले को अंजाम दिया। आरोप है कि विधायक बनने से पहले ही कैलाश सोनकर इस कार्य को अंजाम देते आ रहे हैं। स्थानीय लोगों के अनुसार कैलाश सोनकर गरीब कारोबारियों को अपने झांसे में लेते थे। वे गरीबों को खादी ग्रामोद्योग से कारोबार के नाम पर लोन दिलाने का वादा करते थे। इसके बाद बैंक और खादी ग्रामोद्योग के अधिकारियों से सेंटिंग कर वे लोगों को मिलने वाला लोन हड़प लेते थे। इसके बाद पीड़ित को महज चंद रुपए ही देते थे। बताया जा रहा है कि पिछले कई सालों से विधायक बुनकर, गरीब, मजदूरों से लोन के नाम पर फर्जी चेक पर साइन कराकर लाखों रुपये ऐंठ रहे थे। जब बैंक वालों ने लोगों को नोटिस भेजना शुरू किया तब मामले का खुलासा हुआ।

अपराजिता सोनकर पर भी लग चुके हैं आरोप

आरोपों के घेरे में सिर्फ कैलाश सोनकर ही नहीं है बल्कि जिला पंचायत अध्यक्ष अपराजिता सोनकर के पिता ज्ञानचंद्र सोनकर भी हैं। प्रदर्शनकारियों के मुताबिक ज्ञानचंद्र के कहने पर ही वो लोग लोन लेने के लिए सहमत हुए। दरअसल कैलाश सोनकर के अलावा अपराजिता सोनकर भी भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरी हैं। उनके ऊपर आरोप है कि अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने बगैर कार्य कराए ही करोड़ों रुपए भुगतान कर लिया। इस मामले की जांच जारी है।

सुभासपा ने बताया विधायक के खिलाफ साजिश

दूसरी ओर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने इस पूरे प्रकरण को साजिश बताया है। पार्टी के राष्ट्रीय सचिव शशिकांत सिंह के मुताबिक कैलाश सोनकर के विरोधी उन्हें फंसाने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे मामले की सीबीआई जांच हो जानी चाहिए ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो जाए।

admin

No Comments

Leave a Comment