बलिया। लंबे समय से अपने बयानों को लेकर भाजपा के परेशानी में डालने वाले सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने बुधवार को पाकिस्तान के ‘कायदे आजम’ जिन्ना को लेकर कुछ ऐसा कहा जैसा दूसरे लोग बोलने से गुरेज करते हैं। रसड़ा स्थित अपने केन्द्रीय कार्यालय पर पार्टी कार्यकर्ताओ व पदाधिकारियो के साथ मासिक बैठक करने की खातिर पहुंचे दिव्यांगजन सशक्तिकरण व पिछडा वर्ग कल्याण मंत्री ने बसपा से भाजपा में आये स्वामी प्रसाद मौर्या को जिन्ना का रिश्तेदार तक बता डाला। उन्होंने तो यहां तक कह डाला कि जिन्ना की तारीफ लोग करते है वोट के लिये लेकिन ओम प्रकाश राजभर को इस कीमत पर वोट नहीं चाहिये।

पाकिस्तान में गांधी की फोटो नहीं तो यहां जिन्ना कैसे?

ओम प्रकाश राजभर से जिन्ना का खुलकर विरोध ही नहीां किया बल्कि अपना नजरिया स्पष्ट तक दिया। उनका कहना था कि यदि अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी मे जिन्ना की फोटो लगी हो तो हम उसका विरोध करते है। वहां से उनकी फोटो फौरन ही हटानी चाहिये। यह भाजपा नहीं बल्कि ओम प्रकाश राजभर भारतीय समाज पार्टी कहती है। उनका कहना था कि अगर पाकिस्तान मे गांधी जी की फोटो नही लगी है तो यहां जिन्ना की फोटो लगनी चाहिये यह सवाल कहां से उठ रहा है। अपनी ही कैबिनेट के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या की जिन्ना के प्रति नरमी पर बताया कि हो सकता है कि स्वामी पसाद मौर्या उनके रिश्तेदार होंगे। महात्मा गांधी को हम भारत के राष्ट्रपिता व देश के आजादी दिलाने वाले पिता कहते है। साफ है कि गांधी जी महान है लेकिन जिन्ना महान नहीं हैं।

admin

No Comments

Leave a Comment