जौनपुर। शिवगुलामगंज-सुकलामगंज बाजार (बख्शा) के पास बुधवार की देर रात हीरा व्यापारी नागेश दुबे को गोली मारकर बदमाशों ने एक करोड़ 70 लाख के आभूषण लूट की गूंज लखनऊ तक पहुंच चुकी है। डीजीपी ने इस मामले में एसटीएफ को भी बदमाशों की धर-पकड़ के लिए लगाया है। वारदात से पुलिस महकमे ही नहीं बल्कि पूरे जिले में हड़कम्प मच गया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसका इलाज चल रहा है। इधर मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी दिनेश पाल सिंह जिला अस्पताल पहुंच गये और मौका मुआयना कर मातहतों को आवश्यक दिशा—निर्देश दिया। गुरुवार को एडीजी पीवी रामाशास्त्री और आईजी रेंज विजय सिंह मीना ने मौका मुआयना कर अधीनस्थों से वारदात के बाबत जानकारी ली।

सुनसान स्थान पर दिया वारदात को अंजाम

गौरतलब है कि रायबरेली में व्यापार करने वाले सुल्तानपुर गांव (बख्शा) निवासी हीरा व्यापारी नागेश दुबे बुधवार की देर रात जौनपुर से अपने घर जा रहे थे। पहले से ही उनका पीछा कर रहे बाइकर्स बदमाशों ने बुधवार की देर रात शिवगुलामगंज (सुकलामगंज) बाजार में सुनसान स्थान देख पीछे से उनकी कार में टक्कर मार दी। जब उन्होंने कार रोकी तो बदमाश अंधाधुंध फायरिंग करने लगे। गोली लगने से नागेश घायल हो गये जिसके बाद बदमाश कार में रखा ज्वेलरी से भरा बैग लेकर फरार हो गये। इधर गोली की आवाज सुन स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर आनन—फानन में स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। लगभग पौने दो करोड़ की बड़ी लूट की जानकारी होते ही खुद एसपी जौनपुर तुरंत अस्पताल पहुंचे और घायल और उसके परिजनों से घटना की जानकारी हासिल किया। फिलहाल मामला बड़ा देखते हुए एसपी ने अभी कुछ भी मीडिया के सामने बोलने से इंकार कर दिया है।

admin

No Comments

Leave a Comment