बलिया। यूपी के साथ बिहार में भी एनडीए की सरकार है लेकिन सीमावर्ती इलाकों में ऐसा नहीं प्रतीत होता। यहां पर सरसों ,मसूर के फसल पकने के साथ ही फसल कटाई को लेकर एक बार फिर तनाव उत्पन्न हो गया है। हर साल होली के बाद उत्तर प्रदेश शासन की तरफ से पीएसी की तैनाती कर दी जाती थी लेकिन इस बार न जाने कौन सा कारण है जो ऐसा नहीं हो सका है। इसका नतीजा है कि गोलियां फिर से तड़तड़ाने लगी है। सूचना मिलने पर पुलिस की पीवीआर भी पहुंच रही है लेकिन आरोपितों के बिहार लौट जाने की जानकारी मिलते ही लौट जा रही है।

हजारोंं एकड़ को लेकर चल रहा है विवाद

गौरतलब है कि हल्दी थाना क्षेत्र के जवहीं से लेकर जवहीं, गायघाट सहित बैरिया थाना क्षेत्र के नौरंगा हास नगर सहित लगभग 4000 हजार एकड़ तथा नरही थाना क्षेत्र के उमरपुर दियारा सहित लगभग 5000 एकड़ भूमि पर फसल कटाई के समय सीमा विवाद को लेकर यूपी-बिहार के किसानों के बीच बंदूकें तड़तड़ाती रही है। कितने लोगों की जानें जा चुकी है किंतु आज तक इस समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। वजह, पहले यूपी-बिहार का बंटवारा नदियों के आधार पर हुआ था। नदी इस पार उत्तर प्रदेश व नदी उस पार बिहार की सीमा तय हुई थी। इसमें उत्तर घाघरा नदी और दक्षिण तरफ गंगा यूपी-बिहार को आपस में बांटती थी। हर एक साल नदियों की धारा बदलते रहने से सीमांकन की समस्या उत्पन्न हो जाया करती थी।

578

सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुका है मामला

इस समस्या को ध्यान में रखते हुए तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 1952 में त्रिवेदी आयोग का गठन कर यूपी -बिहार का सीमांकन फिर से कराने का निर्देश दिया। इस क्रम में सीमांकन तो हो गया लेकिन इससे असंतुष्ट लोग विभिन्न न्यायालयों में वाद दाखित कर दिए। इसमें आज भी कुछ वाद सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है। यही कारण है कि हर साल यूपी के किसान सीमावर्ती क्षेत्रों में रबी की फसल बोते है और बिहार के लोग असलहों के बल पर जबरन काट ले जाते हैं। कई बार फसल को काटने के विवाद को लेकर बिहारियों ने यूपी के किसानों पर गोलियां भी चलाई है। इसे रोकने के लिए प्रति वर्ष होली के बाद जवहीं व नौरंगा में फसल कटाई का विवाद न हो, इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार पीएसी तैनात कर देती है किंतु इस साल अभी तक ऐसा नहीं हो सका है। दूसरी किसानों का कहना है कि सरसों की फसल पककर तैयार हो गई है जबकि मसूर की फसल पकने वाली है। ऐसे में अगर यूपी की सरकार दियारे में पीएसी की तैनाती नहीं करेगी तो फिर बिहार के दबंग जबरन यूपी के किसानों की फसल काट ले जाएंगे। आये दिन फायरिंग की घटनाएं हो भी रही हैं।

admin

No Comments

Leave a Comment