इस तरह चलता था गरीबों के खून का कारोबार, दो की गिरफ्तारी के बाद गिरी निजी अस्पताल के साथ पैथालाजी सेंटरों पर गॉज

चंदौली। कोरोना काल में गरीब अपना खून बेचने को विवश है। यह सनसनीखेज खुलासा पुलिस की छापेमारी से हुआ है। दरअसल पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का खुलासा किया है जो अवैध रूप से गरीब ग्रामीणों से खून लेकर अस्पतालों तक सप्लाई करता था पुलिस की गई इस कार्रवाई से अवैध सप्लाई के सिंडिकेट व खून लेने वाले अस्पतालों में हड़कंप मच गया। फौरी कार्रवाई के तहत चंदौली पुलिस ने मामले में दो यूनिट रक्त के साथ दो तस्करों को धर दबोचा है। जांच के क्रम में मिली जानकारी के बाद निजी अस्पताल और पैथालाजी सेंटर के आने पर उनका लाइसेंस भी निरस्त कर दिया गया है।

सटीक सूचना पर हुई छापेमारी

इन्सपेक्टर चंदौली राधेश्याम गुप्ता ने सटीक सूचना पर दो युवकों को स्वास्तिक हॉस्पिटल के पास से गिरफ्तार किया। इंसपेक्टर ने बताया उनके पास मानव रक्त भरा बैग बरामद किया गया। तलाशी के दौरान युवकों के पास से एक मोबाइल, कुछ पैसों के साथ ही मोटरसाइकिल की डिग्गी से एक बैग में दो यूनिट अवैध मानव रक्त बरामद हुआ। जिसपर किसी भी ब्लड बैंक का रैपर नहीं लगा हुआ था। गिरफ्तार भानु प्रताप व बब्बू दोनो निवासी चंदौली ने कबूल किया कि वह गांव-गांव में घूमकर गरीब मजदूरो को पैसे का लालच देकर खून इकठ्ठा करते है। जिसे ऊंचे दामों में बेच देते है।

कसने लगा है शिकंजा

अवैध रूप से मानव रक्त का कारोबार होने की खबर से शासन स्तर पर हडकंप मच गयी। गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ के आधार पर इस कार्य में संलिप्त अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया था तथा इसमें सम्मिलित हास्पिटल व पैथालॉजी सेन्टरों को स्वास्थ्य विभाग तथा चन्दौली पुलिस द्वारा संयुक्त कार्यवाही में सील किया गया था। बाद आवश्यक जांच-पड़ताल/कार्यवाही के स्वास्तिक हॉस्पिटल एण्ड ट्रामा सेंटर बिछियां जीटी रोड़ चन्दौली, शुभम पैथालॉजी सेन्टर अभिषेक काम्पलैक्स वार्ड नम्बर 08 किदवई नगर चन्दौली तथा वैभव पैथालॉजी क्लीनिक जीटी रोड़ चन्दौली का पंजीयन अवैध कार्य में संलिप्तता, अधिकृत चिकित्सक की अनुपस्थिति में कार्य करनें, मानक के अनुरूप कार्य न करनें, नवीनीकरण न कराने सहित आवश्यक अभिलेख उपलब्ध न करा पाने आदि के फलस्वरूप सीएमओ चन्दौली द्वारा सभी का पंजीयन निरस्त किया गया है। लगातार स्वास्थ्य विभाग एवं चन्दौली पुलिस द्वारा इस प्रकरण में जांच एवं आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

Related posts