वाराणसी। ऐसा लग रहा है कि बीजेपी जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा और जिला पंचायत अध्यक्ष अपराजिता सोनकर के सितारे इन दिनों गर्दिश में चल रहे हैं। एक पास प्रधानमंत्री के क्षेत्र में पार्टी की कमान है तो दूसरी जिले की पहली महिला। बावजूद इसके इन दोनों को सरेआम अपमान का घूंट पीना पड़ा, वो भी सीएम योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम के दौरान। दरअसल सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ रविदास मंदिर पहुंचे इन दोनों ही नेताओं को सुरक्षाकर्मियों ने मंदिर में दाखिल होने की परमिशन नहीं दी। जबकि योगी के साथ कई नेता मंदिर के अंदर पहुंचे।

बगले झांकने लगे जिलाध्यक्ष

दोपहर तकरीबन साढ़े बारह बजे योगी का काफिला सीर गोवर्धन स्थित रविदास मंदिर पहुंचा। काफिला रुकते ही योगी के साथ बीजेपी विधायक और कुछ अन्य मंदिर की ओर चल पड़े। इस दौरान जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा और अपराजिता भी साथ थीं। इसी दौरान योगी की सुरक्षा में एसपीजी के जवानों ने इन दोनों को अंदर जाने से रोक दिया। अपने साथ हुए इस बर्ताव से दोनों कुछ देर के लिए ठिठक गए। ये सबकुछ मीडिया के सामने हुआ। बताया जा रहा है कि इस घटना के बाद जिलाध्यक्ष कार के पास पहुंच गए। वहीं अपराजिता सोनकर का कहना है कि इस मुद्दे को ज्यादे तूल देने की जरूरत नहीं है। ये कार्यक्रम बीजेपी का नहीं था बल्कि मंदिर प्रबंधन का था।

admin

No Comments

Leave a Comment