आजमगढ़। पुलिस के तमाम दावों के बावजूूद अपराध का पारा चढ़ता जा रहा है। हौसला बुलंद बदमाशों ने पिछले 48 घंटे में गोली मारने की तीसरी वारदात को अंजाम दिया है। ताजा मामला तरवां थाना क्षेत्र के अवनी गांव की है। जहां मनबढ़ों ने जमीन को लेकर विवाद में एक व्यक्ति की गोली मारकर की हत्या कर दी और परिवार की दो महिलाएं भी हमले में घायल हो गयी। दोनो महिलाओं की हालत नाजुक देखकर आजमगढ़ ट्रामा से वाराणसी रेफर कर दिया गया है। शर्मनाक यह भी रहा कि समूचा विवाद पुलिस के संज्ञान में था लेकिन पहले से एहतियात न बरतने के चलते खूनी संघर्ष हो गया। एसपी रवि शंकर छवि ने मौका मुआयना और पूरी जानकारी प्राप्त करने के बाद एसआई सुरेश कुमार यादव व आरक्षी अरुण कुमार यादव को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है।

पुलिस की लापरवाही वारदात का सबब

गांव के अत्रेय सिंह और राजेश सिंह के बीच भूमि को लेकर पुरानी अदावत थी। मामला कोर्ट में चल रहा था। कुछ दिन पहले कोर्ट से अत्रेय सिंह के पक्ष में फैसला आया। इसके बाद अत्रेय सिंह रविवार को उस जमीन पर दीवार का निर्माण कराने लगे। इससे नाराज दूसरे पक्ष के राजेश सिंह ने विरोध करना शुरू कर दिया। विवाद बढ़ा तो अत्रेय सिंह ने पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुची और अत्रेय सिंह उनके भाई मत्रेय सिंह और राजेश सिंह के भाई को हिरासत में ले लिया। तनाव को देखते हुए दीवार निर्माण कार्य को बंद कराकर मौके पर पुलिस फोर्स की तैनात कर दी गई। रात 11 बजे सिपाही वहां से हट गये और कुछ देर बाद आधा दर्जन साथियों के संग राजेश ने दीीवार गिरानी शुरू कर दी। विरोध करने पर गोली बरसानी शुरू कर दी। फायरिंग में अत्रेय सिंह (44), उनकी पत्नी अनीता (40) और बेटी शिखा सिंह (17) गंभीर रूप घायल हो गयी। बीएचयू ट्रामा सेंटर में अत्रेय की मौत हो गयी जबकि पत्नी-बेटी की दशा चिंताजनक बनी है।

admin

No Comments

Leave a Comment