वाराणसी। चोरी की घटनाओं में वृद्धि और वसूली की शिकायतों के चलते बुधवार की रात आईजी रेंज दीपक रतन शहर की सड़कों पर निकले तो उन्हें पुलिस का ‘सच’ देखने को मिला। रात्रि भ्रमण के दौरान कई पिकेट का जायजा लेने पर स्पष्ट हुआ कि यहां तैनात 10 सिपाही अपने ड्यूटी स्थल पर हैं ही नहीं। यही नहीं दो स्थानों पर तो भारी वाहनों से वसूली का खेल भी सामने आया। खास यह कि उनके पर्यवेक्षण की जिम्मेदारी जिन राजपत्रित अधिकारियों के जिम्मे थी वह सीओ भी नहीं थे। आईजी ने इस पर सख्त रुख अख्तियार करते हुए गुरूवार को 10 सिपाहियों को लाईन हाजिर कर दिया जबकि वसूली करने वाले दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। वहीं रात में भ्रमण न करने पर चार क्षेत्राधिकारियों से स्पष्टीकरण भी मांगा है। आईजी के इस कदम के बाद से पूरे पुलिस महकमे में हडकंप मच गया है।

कुछ स्थानों पर मिली सतर्कता

गश्त और पिकेट ड्यूटी का जायजा के लिए निकले आईजी को कुछ स्थानों पर सतर्कता भी मिली। इनमें पुलिस लाईन, राजघाट, भदऊ चुंगी, सुड़िया तिराहे, नारिया तिराहा, सुन्दरपुर तिराहा, सिगरा चौराहा पर लगे तैनात सिपाही सतर्क पाए गये। वहीं आशापुर चौराहे पर पिकेट ड्यूटी में लगे आरक्षी, प्रह्लादघाट पर लगे आरक्षी, हरतीरथ चौराहे पर लगे सिपाही, थाना लंका, मालवीय गेट बीएचयू, तथा सुन्दरपुर चौराहे पर तैनात पुलिसकर्मी अपने कार्यों के प्रति लापरवाह और उदासीन पाए गये। निरीक्षण के दौरान मंडुवाडीह थाने की ककरमत्ता पिकेट पर तैनात सिपाही ट्रकों से अवैध वसूली में लिप्त पाए गये।

इनके खिलाफ हुई है कार्रवाई

कार्रवाई के जद में आने वालों में सारनाथ थाने के कांस्टेबिल विनोद यादव एवं रामप्रकाश यादव, आदमपुर थाने के कांस्टेबिल विसेंद्र यादव एवं रामाशीष, कोतवाली के कांस्टेबिल श्रीराम कुमार और चन्द्र प्रकाश तथा लंका थाने के कांस्टेबिल शैलेन्द्र कुमार सिंह, विक्रम सिंह आजाद, आशोक कुमार यादव एवं राणा प्रताप सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है। ककरमत्ता पिकेट पर कांस्टेबिल कमल मौर्या और सुमित राय ट्रकों को रोककर वसूली करते हुए मिले जिसपर उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

एक को छोड़ सभी क्षेत्राधिकारियों से स्पष्टीकरण

आईजी ने बुधवार की रात 1 बजे के करीब सभी क्षेत्राधिकारियों की लोकेशन जाननी चाही लेकिन सिर्फ सीओ चेतगंज सत्येन्द्र तिवारी की लोकेशन मिल सकी। इस पर उन्होंने सीओ कैंट का कार्यभार देख रहे एएसपी प्रशांत वर्मा, सीओ कोतवाली, दशाश्वमेध और भेलूपुर का रात्रि भ्रमण न किये जाने पर स्पष्टीकरण मांगा है।

admin

No Comments

Leave a Comment