पीएम का आदर्श गांव नागेपुर जहां किशोरियों के लिए समर कैंप में विकल्प तमाम, आत्मनिर्भर बनने के क्रम में मिल रही ट्रेनिंग

वाराणसी। पिछले दिनों चुनावी अभियान के तहत काशी आयी कांग्रेस महासचिव प्रियंंका वाड्रा ने पीएम मोदी पर तंज कसा था कि वह पांच साल में किसी गांव नहीं गये। जमीनी हकीकत उन्हें पीएम के गोद लिये गांव जयापुर जाकर देखनी चाहिये। यहां पर चल रहे समर कैम्प में लड़कियों के रोजगार के ले लिए विभिन्न कोर्स चलाये जा रहे हैं। मिर्जामुराद लोक समिति व आशा ट्रस्ट द्वारा आयोजित समर कैम्प में रोजगारपरक कार्यक्रम के माध्यम से पीएम आदर्श गांव नागेपुर की किशोरी लड़कियाँ आत्मनिर्भर बन रही है। किशोरियों को स्वावलम्बी और आत्मनिर्भर बनाने के लिए समर कैम्प 10 मई से प्रारम्भ किया गया है। इस कैम्प में लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिये रोजगारपरक स्वरोजगार के विभिन्न कोर्स कराये जा रहे है। समर कैंप में नागेपुर के अलावा आसपास के बेनीपुर, मेहदीगंज, कचनार, हरसोस, बीरभानपुर, कल्लीपुर, असवारी,कुंडरिया,गनेशपुर आदि गांवो की करीब 80 लड़कियाँ अलग-अलग कार्यक्रमों में भाग ली है।

मार्शल आर्ट संग रोजगार परक कोर्स पर ध्यान

लोक समिति के संयोजक नन्दलाल मास्टर ने बताया कि समर कैम्प में लड़कियों को नि:शुल्क कम्प्यूटर,ब्यूटीशियन,अचार-मुरब्बा व पापड़ बनाने,हैण्डीक्राप्ट,संगीत,डान्स,ज्वैलरी से रोजगार परक कोर्स की ट्रेनिंग दी जा रही है। इसके अलावा लड़कियों के आत्मरक्षा के लिए मार्शल आर्ट सिखाया जायेगा। यह समर कैम्प 10 जून तक चलेगा। किशोरियों को उनके अधिकार व कानून की भी ट्रेनिंग दी जायेगी। लड़कियों का आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए पुलिस थाना का भी भ्रमण कराया जायेगा। कार्यक्रम के अंत में भाग लेने वाली लड़कियों को प्रमाण पत्र भी दिया जायेगा। कार्यक्रम में सोनी मैनम अनीता,पंचमुखी, मधुबाला आशा प्रेमा सुनील अमित सरिता रामबचन और श्यामसुंदर मास्टर आशीष कृष्णा पटेल आदि सहयोग दे रहे है।

Related posts