गाजीपुर। एक बार फिर से दहेज लोभियों की बर्बरता सामने आई है। दहेज के लिए ससुरालवालों ने न सिर्फ एक विवाहिता के साथ मारपीट की बल्कि उसके प्राइवेट पार्ट तक को जख्मी कर दिया। दरिंदगी यही नहीं रुकी। महिला के बाल भी काट दिए गए। पूरा वाक्या बरेसर थाने के अलावलपुर गांव का है। फिलहाल महिला इंसाफ के लिए अपनी तीन साल की बेटी के साथ एएसपी ग्रामीण चंद्रप्रकाश शुक्ल के पास पहुंची।

पति बन गया था हैवान

महिला के मुताबिक उसका मायका करीमुद्दीनपुर थाने के बाराचवर में है। उसकी शादी वर्ष 2013 में अलावलपुर गांव में हुई थी। शादी के बाद से ही दहेज में सोने की चेन और बाइक की मांग को लेकर उसके साथ प्रताड़ना का दौर शुरू हुआ। पति विदेश नौकरी के लिए लौट गया। उसके बाद उसने एक बेटी को जन्म दिया । विदेश से दोबारा लौटने के बाद पति और सख्त हो गया। वह अपने परिवार के सदस्यों के साथ उसके साथ प्रायः हर रोज मारपीट करता। महिला की शिकायत पर मायके वाले उसके घर पहुंचे और बिरादरी की पंचायत के जरिये मामला शांत कराना चाहे लेकिन ससुरालियों ने पंचों की एक नहीं सुनी और जबरिया महिला और उसकी पुत्री को घर से भगा दिया। तब बीते छह फरवरी को सविता पुलिस के पास पहुंची। पुलिस के महिला प्रकोष्ठ ने बीते 11 मार्च को दोनों पक्षों को बुलाया। सुलह-समझौता करा कर सविता को पुत्री संग फिर से ससुराल भेजा लेकिन ससुरालियों के रवैये में कोई सुधार नहीं हुआ।

पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

बकौल सविता, रविवार को तो हद हो गई। पति ने जुल्म की इंतहा कर दी। नाखूनों से उसके शरीर को नोच दिया। उसके प्राइवेट पार्ट तक को जख्मी किया। साथ ही उसके बाल काट दिए। एएसपी ग्रामीण को सविता ने लिखित तहरीर दी। उसमें उसने पति अरविंद के अलावा ससुर पारसनाथ, देवर अजय, ननद कंचन तथा चंद्रलेखा, चचेरे ससुर मुन्ना और चचेरी सास को नामजद की है। एएसपी ग्रामीण ने बताया कि इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

admin

No Comments

Leave a Comment