गाजीपुर। आगामी लोकसभा चुनाव में आम लोगों को पार्टी से जोड़ने की खातिर सपा ने जो साइकिल यात्रा सोमवार से आरंभ की उसका हाल क्या होगा इसके कयास लगाये जााने लगे हैं। दरअसल सपा की सामाजिक न्याय और लोकतंत्र बचाओ साइकिल यात्रा को पहले ही दिन बड़ा झटका लगा है। गाजीपुर से रवाना होकर सैदपुर पहुंची साइकिल यात्रा का यहां पार्टी विधायक सुभाष पासी के आवास पर पहला पड़ाव था। रैली में शामिल कार्यकर्ताओं के रात्रि विश्राम के यहां प्रबंध थे। सूत्रों की माने तो रात में ही विधायक के आवास से कई साइकिले चोरी हो गई। इसकी जानकारी उन्हें मंगलवार की सुबह उस समय हुई जब सभी आगे रवानगी की तैयारी हो रही थी। मामला मीडिया के संज्ञान में आने की भनक सैदपुर विधायक को मिली तो उन्होंने तत्काल साइकलों की व्यवस्था कर यात्रा को आगे रवाना किया।

विधायक ने दी सफाई

लोकसभा चुनाव के लिए दावेदारी में जुटे सैदपुर के सपा विधायक सुभाष पासी का कहना है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशानुसार यात्रा को गाजीपुर से रवाना होने के बाद सैदपुर हमारे निवास स्थान रुकना था। इसकी पूरी व्यवस्था की गई थी। रात में कार्यकतार्ओं के सोने के बाद साइकिल चोरी हुई है। हालांकि यह साइकिल किसके द्वारा चोरी की गई इसकी जानकारी उन्होंने नहीं है। फिलहाल कार्यकतार्ओं को साइकिल उपलब्ध करा कर आगे के लिए रवाना कर दिया गया है। गौरतलब है कि 1052 किलोमीटर की दूरी तय कर 23 सितंबर को दिल्ली के जंतर-मंतर तक साइकिल यात्रा का कार्यक्रम है लेकिन पहले दिन हुई घटना से इस पर सवाल उठने लगे हैं।

admin

No Comments

Leave a Comment