बलिया। ऐसा अमूमन कमउम्र के प्रेमी युगल के साथ देखा जाता है लेकिन रविवार की सुबह चौबेपुर (फेफना) गांव के पास रेल ट्रैक पर मिले युगल की शिनाख्त होने पर जो कहानी सामने आयी उस पर सहसा कोई विश्वास नहीं कर पा रहा था। मृतका पूजा चौहान (25) साथ पड़े दिलीप चौहान (19) की रिश्ते में भाभी लगने के साथ छह साल की बच्ची की मां भी थी। आरम्भिक जांच में पुलिस को पता चला कि मूल रूप से बरदह (आजमगढ़) के कम्हरपुर गांव निवासी दिलीप पॉलीटेक्निक में का छात्र था। शनिवार को सुबह नौ बजे वह छात्रवृत्ति का फार्म भरने की बात कह घर से निकला था। पूजा कब उसके साथ हो ली और दोनों ने साथ मरने का निर्णय ले लिया किसी को पता नहीं चला।

मंदिर में छोड़ दिया शिनाख्त का सामान

सुबह शौच के लिए निकले ग्रामीणों ने रेल ट्रैक पर प्रेमी युगल की सर कटी लाश देखी तो पुलिस को सूचना दी। पास के मंदिर से मंदिर से दोनों प्रेमी युगल के दो मोबाइल,आधारकार्ड, फोटो,पर्स,चप्पल और अपाचे बाइक भी मिली जिसके आधार पर पुलिस ने दोनों की पहचान कर सकी। बताया जाता है कि पूजा का पति मुंबई में नौकरी करता है और पड़ोस में रहने वाले रिश्ते के देवर दिलीप से नजदीकियां बन गयी थी। परिजनों को इसका आबास हुआ तो एतराज किया जिस पर प्रेमी युगल ने यह निर्णय ले लिया।

admin

No Comments

Leave a Comment