हाईकोर्ट ने एसएसपी को लगाई फटकार, अगले 19 दिनों में लापता छात्र की बरामदी न होने पर हो सकती है सीबीआई जांच

वाराणसी। बीएचयू के लापता छात्र शिव कुमार त्रिवेदी के मामले में नया मोड़ आ गया है। गुरुवार को एसएसपी वाराणसी अमित पाठक को हाईकोर्ट ने मामले में तलब किया था। जब एसएसपी हाईकोर्ट में पहुंचे तो उन्हें न्यायाधीशों की नाराजगी का सामना करना पड़ा। कोर्ट ने साफ तौर पर एसएसपी को अल्टीमेटम दिया है कि वे 22 सितंबर तक शिव कुमार त्रिवेदी को कहीं से भी ढूंढकर लाएं वरना मामले में सीबीआई जांच का सामना करने के लिए तैयार रहें। हाईकोर्ट ने मामले पर तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि वाराणसी पुलिस या तो छात्र को बरामद करे या फिर सीबीआई जांच के लिए तैयार रहे।

निजी हलफनाम से संतुष्ट नहीं थी कोर्ट

गौरतलब है कि इससे पहले हाईकोर्ट ने 3 सितंबर को एसएसपी वाराणसी को कोर्ट में तलब किया था। इस मामले में दिये उनके पर्सनल एफिडेविट से भी कोर्ट संतुष्ट नहीं हुआ। जस्टिस शशिकांत गुप्ता और जस्टिस शमीम अहमद की डिवीजन बेंच ने सुनवाई के दौरान चेतावनी दी कि मामले में जब 22 सितंबर को अगली सुनवाई हो तो शिव कुमार त्रिवेदी बरामद हो जाए या फिर वाराणसी पुलिस इसकी सीबीआई जांच के लिए खुद को तैयार कर ले।

कार्रवाई का ‘दांव’ भी नहीं चला

खास यह भी कि एक दिन पहले इस मामले में एसएसपी की तरफ से कार्रवाई की गयी थी। दो दरोगा समेत पांच पुलिसकर्मी लाइन हाजिर हुए थे। माना जा रहा था कि हाइकोर्ट में सुनवाई से पहले कार्रवाई का दांव चल ‘डैमेज कंट्रोल’ हो जायेगा। बाावजूद इसके कोर्ट ने तल्ख तेवर दिखाते हुए अल्टीमेटम दे दिया।

Related posts