चंदौली। सिंघी ताली के पास पिछले महीने ट्रक के भीतर ड्राइवर शंकर लाल की हत्या के मामले में पुलिस ने रामनगर के निवासी नीरज मौर्या और मोहम्मद सलीम को गिरफ्तार किया तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। दोनों ने कबूल किया कि वह हेरोइन का नशा करते हैं और इसकी खातिर चोरियों करने से नहीं हिचकते। एनएच पर कटरिया के पास इंदौर से टाफी लादकर कोतकाता जा रहे ट्रक में 5 जनवरी की देर रात वह इसी इरादे से घुसे थे लेकिन आहट मिलने पर ड्राइवर जग गया जिसने शोर मचाना शुरू कर दिया। वहीं रखी लोहे की राड से सिर पर वार करने के बाद जो कुछ बटोरते बना लेकर चलते बने। एसपी संतोष सिंह ने गिरफ्तार आरोपितों को मीडिया के सामने पेश करते हुए बताया कि क्राइम ब्रांच और अलीनगर पुलिस की संयुक्त छापेमारी में यह सफलता मिली।

सर्विलांस से मिले थे अहम सुराग

सनसनीखेज वारदात के बाद हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए सीओ सदर प्रदीप चंदेल के नेतृत्व में टीम गठित की गयी थी। सर्विलांस से मिले सुराग पर टीम ने सिघींताली से मवई तिराहा की तरफ मोटरसाइकिल से आ रहे दो लोगों को घेराबंदी कर गिरफ्तार किया। तलाशी में उनके पास से रंक्तरंजित लोहे की राड, मृतक का पर्स, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड व ट्रासंपोटरों के विजटिंग कार्ड बरामद किये। गिरफ्तारी करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक अतुल नारायण सिंह, क्राइम ब्रांच प्रभारी शिवानंद मिश्रा, स्वाट टीम के एसआई साजिद सिद्धकी, विनय तिवारी, रामनरायन राम, वीर बहादुर सिंह, कास्टेबल अरविंद, अजय, अमित, रविंदर, बृजेश, ब्रम्हदेव, संदीप, आनंद आदि शामिल थे।

admin

No Comments

Leave a Comment