वाराणसी। राज्य महिला आयोग की सदस्या मीना चौबे ने महिला उत्पीड़न की रोकथाम एवं पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय लिये जाने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहॉ कि महिला उत्पीउ़न से संबंधित सभी प्रकरणों को गम्भीरता से लेते हुए उसका त्वरित निस्तारण सुनिश्चित करे। महिला उत्पीड़न से संबंधित जो भी हेल्प लाइन व उपाय सरकार द्वारा किये जा रहे है, उनका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाय।

भटकना न हो पीड़िता को

मीना चौबे बुधवार को सर्किट हाउस सभागार में समीक्षा कर रही थी। उन्होने जनपद के सभी विभागों में महिला हितों की सुनवाई हेतु तत्काल ग्रीवांस सेल गठित करने के निर्देश दिये। थानों में महिलाओं की समुचित सुनवाई हो और उन्हे इधर-उधर भटकाया न जाय। नियमानुसार प्रकरणों में रपट भी दर्ज किया जाय तथ उत्पीड़ित महिलाओं का हरसंभव मदद किया जाय। गौरतलब है कि प्रत्येक माह के प्रथम बुधवार को राज्य महिला आयोग के पदाधिकारी द्वारा महिला उत्पीड़न से संबंधित प्रकरणों की जनसुनवाई की जाती है। इसलिये पीड़ित महिलाएं इस दिवस को उपस्थित होकर अपनी समस्याओं से अवगत करा सकती है। जिसकी समुचित सुनवाई होगी ओर उन्हे न्याय मिलेगा। बैठक में एसडीएम नीता यादव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

admin

Comments are closed.