कानपुर। शुक्रवार को ईश्वरीगंज गांव इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया। जहां भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम में शिरकत की वहीं उनके साथ सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल रामनाईक समेत कई मंत्रीगण मौजूद रहे। राष्ट्रगान से शुरू हुए कार्यक्रम में स्वच्छता को लेकर आह्वान भी किया गया। महामहिम रामनाथ कोविन्द भाषण के लिए जैसे ही पहुंचे मंच से लेकर पूरा पंडाल तालियों की गडगड़ाहट से गूंज उठा। उन्होंने कहा कि आज मैं अपने घर मे आया हूँ। आप जो मेरा स्वागत कर रहे है वो रामनाथ कोविन्द का स्वागत नही बल्कि राष्ट्रपति का स्वागत है। आज हमारा देश एक दूसरी लड़ाई लड़ रहा है वो है स्वच्छता की लड़ाई। इस गाँव से सीख लेकर लोग गँगा स्वच्छता को लेकर शपथ लें।

2018 तक शौचमुक्त होगा यूपी: सीएम योगी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषण में बोलते हुए कहा कि स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत पीएम मोदी ने साल 2014 मे की थी । आज हमारा देश स्वच्छ भारत मिशन का हिस्सा बन चुका है । करीब दस लाख शौचालय का निर्माण हो चुका है और 2015 तक 78 लाख का लक्ष्य रखा है। 2018 तक पूरे प्रदेश को खुले में शौच मुक्त करेंगे। इस अभियान में केवल सरकार ही नही बल्कि इसमे आम जन को भी आगे आना होगा। हमने प्रदेश के दस हजार गाँव को शौच मुक्त कर दिया है साल 2017 तक दस लाख आवास गाँव मे उपलब्ध करवाएंगे जिसमे एक शौचालय भी बनवाकर देंगे । इस लक्ष्य को हासिल करने के लिये सबको आगे आना होगा। हमे बीमारियों से बचना है तो हमे स्वच्छता की और जाना ही होगा।

admin

No Comments

Leave a Comment