गो तस्करों का नया फंडा, बार्डर पार करने के लिए फोर व्हीलर पर भाजपा का झंड़ा

चंदौली। वध के लिए गोवंध तस्करी करने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू किया तो उन्होंने इसकी खातिर नये पैंतरे अपनाने शुरू कर दिये हैं। मुगलसराय पुलिस ने बुधवार की रात चेकिंग के दौरान तस्करों को दबोचा तो चौंकाने वाले खुलासे हुए। दूसरे वाहनों की तरह आने वाली बोलेरो की पिछली सीटें निकालकर उसमें तीन गोवंश को ठूंसा गया था। खास यह कि बोलेरो पर केन्द्र और प्रदेश की सत्ता पर काबिज भाजपा का झंडा लगाया गया था। तस्करों का कहना था कि झंडा लगा होने के नाते पुलिस रोकती नहीं थी और आराम से बार्डर पार हो जाते थे।

इस तरह पकड़े गये तस्कर

इंस्पेक्टर शिवानंद मिश्रा के मुताबिक एसपी हेमंत कुटियाल के निर्देशों के क्रम में एसआई मो. सलीम हमराह फोर्स के साथ जयपुरिया स्कूल के पास चेकिंग कर रहे थे। एक बोलेरो तेज गति से आती दिखी जिसे रूकने का इशारा किया गया ड्राइवर गति अप्रत्याशित रूपसे बढा कर पुलिस टीम को रौंदने का प्रयास करते हुए भागा लेकिन सड़क किनारे बनें डिवाइडर में टकरा कर रूक गया। गाड़ी से उतर कर दो तस्कर भागने में सफल रहे तथा तीसरे को पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ लिया गया। अपने को बचाने में पुलिस टीम के कुछ सदस्य चोटिल भी हो गये। बोलेरो पर दोनों तरफ अलग नंबर लिखे थे तथा अन्दर सीटों के नीचे क्रूरतापूर्ण तरीके से तीन राशि गोवंश लदे थे।

वध के लिए बंगाल जा रहे थे गोवंश

गिरफ्तार अजीत कुमार निवासी जंसो (अलीनगर) ने बताया बरामद गोवंश को वध हेतु बिहार के रास्ते पश्चिम बंगाल ले जा रहे ते। इसके संह फरार अन्य अभियुक्तों के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी दी है जिस पर उनकी धर-पकड़ के लिए दबिश दी जा रही है। बोलेरो मय गोवं शथाने पर लाकर गोवंश को मुक्त कराया गया तथा अभियुक्तों के विरुद्ध थाना स्थानीय पर धारा 3/5अ/8 गोवध निवारण अधिनियम 11 पशु क्रुरता अधिनियम व धारा 34/307 भादवि एवं 420/467/471 भादवि सहित 207टश् अू३. के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही।

Related posts