वाराणसी। चौखण्डी गांव (जंसा) के पास स्थित अम्बेडकर मूर्ति को सोमवार की रात शरारती तत्वों ने अम्बेडकर प्रतिमा तोड दी। मंगलवार की सुबह इसकी जानकारी होते ही कई गांवो के दलित एकत्रित हो गये और भाऊपुर-कालिकाधाम मार्ग को जाम कर दिए। जाम के दौरान एक संस्था के लोगों ने उत्तेजक भाषण दिये दिये जिससे आक्रोशित दलित उग्र हो गये और कुछ ही दूरी पर स्थित हनुमान जी की मूर्ति तोडने के लिये चल दिये। पुलिस भी मौके पर पहुची। इस बीच दर्जनों की संख्या में दलितों ने सवर्णों पर पथराव कर दिया जिससे कई लोग घायल हो गये। पथराव के दौरान जंसा पुलिस ने दलितों को दौडा- दौडा कर पीटना शुरू कर दिया जिससे भगदड मच गयी। पुलिस ने बोल्डर व बांस को सडक से हटा कर जाम समाप्त कराया। लाठी चार्ज के दौरान कई पत्रकार भी जख्मी हो गये। मूर्ति तोडे जाने की जानकारी मिलते ही सीओ सदर,एसडीएम राजातालाब समेत कई थाने की पुलिस मौके पर पहुच गयी।

848

राजस्व अभिलेखों में दर्ज है कुछ और

चौखंडी गांव में आंबेडकर प्रतिमा पिछले दो सालों में तीसरी बार तोड़ी गई है। खास यह कि प्रतिमा तालाब के भीटा की जमीन पर स्थापित की गई। यही कारण है कि गांव और आसपास में जातीय तनाव बढ़ता जा रहा है। गौरतलब है कि सपा शासनकाल में राज्यमंत्री सुरेन्द्र पटेल ने ग्राम सभा की इस भूमि पर विद्युत उपकेन्द्र स्थापित कराने की खातिर भूमि पूजन भी किया था। विरोध के चलते उपकेन्द्र दूसरे स्थान पर चला गया। सूबे में सत्ता परिवर्तन के बाद मामला भी ठंडे बस्ते में चला गया। बवाल के बाद इलाकाई संभ्रांत लोगों का सवाल था कि तालाब के भीटा की जमीन पर प्रतिमा कैसे स्थापित कर दी गई? इस प्रश्न का उत्तर हंगामे के बाद मौके पर जुटे राजस्व विभाग के अफसरों के पास भी नहीं था। अलबत्ता एसडीएम का कहना है कि राजस्व विभाग से रिपोर्ट मांगी गयी है और उसके मिलने पर कार्रवाई होगी।

दर्ज हुआ मुकदमा

भगदड एवं लाठी चार्ज से कई लोग घायल हो गये जिनमें में तीन मीडियाकर्मी भी शामिल हैं। घायलों में जेजे राम (36),कन्हैया राम (61), सविता देवी (42), लालजी (65),सुनीता देवी (42) के अलावा पथराव में लालजी पांडेय (58) ,दशरथ पांडेय (45) के संग विनय कुमार सिंह व भवेश सिंह घायल हुए है। इस मामले में संदीप राम की तहरीर पर सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। जाम के दौरान दलितों ने नयी मूर्ति लगाने की मांग पर अड़े रहे। बाद में ग्राम प्रधान निर्मला देवी व पुलिस के सहयोग से नयी मूर्ति लगाने की मांग मान ली गयी। घटना स्थल पर तनाव पूर्ण शांति बनी हुयी है। मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

admin

No Comments

Leave a Comment