मीरजापुर। पुलिस को लेकर आम छवि अच्छी नहीं रहती। महिलाएं तो थाने क्या अधिकारी के सामने जाने से कतराती है। इसे समाप्त करने के लिए एसपी मीरजापुर आशीष तिवारी ने अनूठी पहल की है। देश में यह अपनी तरह का प्रथम प्रयोग है जिसकी शुरूआत मीरजापुर एसपी आफिस से हुई है। योजना के तहत जिले के समस्त थानों में इस प्रकार की कैन्टीन खुलवाये जायेंगे। सर्वप्रथम कोतवाली कटरा व उसके पश्चात कोतवाली शहर इसी प्रकार सभी थानों व पुलिस लाईन में कुल मिलाकर 16 कैन्टीन खोले जायेंगे, जिनकों महिलायें संचालित करेंगी। महिलाओं को थानों में दुकान सरकार की योजना के अनुसार मिलेगा। एसपी आफिस की कैन्टीन पं. दीनदयाल अंत्योदय नेशनल ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत ग्राम्य विकास विभाग मीरजापुर के अंन्तर्गत चाँद आजीविका महिला समूह की सदस्य श्रीमती पानकली देवी के द्वारा संचालित किया जायेगा। डीएम व एसपी ने इसका संयुक्त रूप से उद्घाटन किया।

797

महिलाओं में बढ़ेगा आत्मविश्वास

एसपी मीरजापुर ने कैन्टीन के सम्बन्ध में बताया गया कि नारी सुरक्षा सप्ताह के दौरान चलाये गये नारी जागरूकता अभियान का परिणाम है कि महिलायें सरकारी योजनाओं व अन्य प्रकार के सामाजिक क्रियाकलापों में बढ़-चढ़ कर प्रतिभाग कर रही हैं। इससे उनमें आत्मविश्वास व सुरक्षा की भावना जागृत हो रही है। पुलिस द्वारा चलाये गये जागरूकता अभियान से महिलाओं में विश्वास उत्पन्न हुआ है तथा वे सामाजिक संगठन गठित कर अपनी स्थिति मजबूत करने हेतु प्रयासरत हैं। प्रयोग के तौर पर मीरजापुर से शुरू किये गये प्रेरणा कैन्टीन के लाभ से भारत सरकार को अवगत कराया जायेगा, जिससे यह योजना सम्पूर्ण भारत में चलायी जाये व महिलाओं को रोजगार मिल सके।

798

दूरगामी परिणाम होंगे कैंटीन के

सभी थानों में कैन्टीन खोले जाने का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को रोजगार दिलाते हुये उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाना व उनमें सुरक्षा का भाव विकसित करना है। थानों पर महिलाओं द्वारा संचालित होने वाली कैन्टीन के दूरगामी परिणाम होंगे तथा थानों पर अपनी शिकायत अथवा समस्या लेकर आने वाली महिलायें भी निडर होकर अपनी समस्या से अधिकारीगण को अवगत करा सकेंगी तथा किसी प्रकार का डर होने पर महिला कैन्टीन संचालक से सम्पर्क करके अपनी समस्या उन तक पहुँचा सकेंगी। महिलायें जब थानों और पुलिस लाईन में कैन्टीन चलायेंगी तो थानों पर आने वाली महिलायें बेझिझक होकर अपनी बात अधिकारी से बता सकेंगी। उक्त कैन्टीन के संचालन से थानों पर आने वाले फरियादियों व थानों पर नियुक्त पुलिसकर्मियों को जलपान हेतु स्वच्छ, शुद्ध व ताजा खाद्य पदार्थ मिल सकेगा।

admin

No Comments

Leave a Comment