पहले की दारू-मुर्गा की पार्टी फिर विपक्षी को फंसाने के लिए दोस्त के हाथ में गोली मार दी, चार गिरफ्तार लेकिन मुख्य आरोपी फरार

जौनपुर। लॉक डाउन के चलते लोगों का निकलना कम हो रहा है और पार्टी तो न के बराबर हो गयी है। बावजूद इसके मछलीशहर कोतवाली में शुक्रवार की रात फायरिंग की सूचना आयी तो पुलिस के होश फाख्ता हो गये। आरम्भिक जांच में जो सच्चाई सामने आयी उससे पुलिस भी सकते में रह गयी। दरअसल सरांवा गांव में शुक्रवार की रात दो पक्षों में विवाद हो गया जिसमें आरोपित पक्ष ने अपने दोस्त के हाथ पर गोली मारकर दूसरे पक्ष को फंसाने के प्रयास किया। खास यह कि इससे पहले मुर्गा-दारू की पार्टी की गयी थी जिसमें विपक्षी के फंसाने के लिए यह प्लान बना था। पुलिस ने तत्परता से एक आरोपित को छोड़ चार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

काफी दिनों से चल रहा विवाद

सरांवा गांव के जयनारायण यादव व विपिन यादव में पुरानी रंजिश को लेकर काफी वर्षो से विवाद चल रहा था। शुक्रवार की रात 10 बजे किसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया। जिसके बाद आरोपित पक्ष ने अपने चार दोस्तों को बुलाकर उनके साथ जमकर दावत उड़ाई व पार्टी की। कुछ समय बाद सभी आरोपित जयनारायण के घर पर पहुंच दो राउंड फायरिंग कर अपने ही दोस्त सूरज पाठक के हाथ मे गोली मार घायल कर जयनारायण पक्ष पर गोली मारने का आरोप मढ़ने का प्रयास किया।

साजिशकर्ता असलहा समेत फरार

इसी दौरान फायरिंग की सूचना पुलिस को मिल गई। पुलिस के आने से पहले ही मुख्य आरोपित असलहा सहित फरार हो गया। घटना की सूचना पर भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे कोतवाल विजय कुमार चौरसिया ने मामले की पूरी छानबीन की और जयनारायण की तहरीर पर विपिन यादव, प्रवेश, सूरज, पवन, सुनील यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। सूरज पाठक का सीएचसी में इलाज करवाया। इलाज के बाद पुलिस चारों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वही जबकि घटना का मुख्य आरोपित विपिन यादव असलहे के साथ फरार है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दे रही है।

Related posts