बलिया। सुखपुरा पुलिस के लिए शनिवार को मासूम के अपहरण का मामला प्रतिष्ठा का सवाल बन गया था। सोोबई बंधा निवासी संंजय यादव की पत्नी ममता देवी ने रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि जिला अस्पताल बलिया में बच्चे को दवा दिलाने के दौरान एक अज्ञात महिला सम्पर्क में आई जिसने बातचीत के दौरान दोस्ती कर ली। फिर ई-रिक्शा से साथ ही में सोबई बाँध घर आई। वापस जाते हुए वृद्ध सास उसके 4 वर्षीय बच्चे शिवम को लेकर अज्ञात महिला को छोड़ने गांव के बाहर गयी जहां समोसा खिलाने का झांसा देकर अज्ञात महिला 04 वर्षीय बालक को लेकर बाजार गयी फिर बच्चे को अगवा करते हुए फरार हो गयी।

पहले भी अपहरण की आरोपित रही गिरफ्तार महिला

पुलिस अधीक्षक बलिया ने मामले की गंभारता देखते हुए तत्काल समस्त जनपदीय पुलिस को सतर्क करते हुए कई टीमों को महिला एंव बालक की तलाश हेतु लगाया गया। पुलिस टीमों द्वारा निरन्तर खोज बीन करते हुए 7 घंटे के अन्दर ही 4 वर्षीय बालक को सकुशल बरामद कर लिया तथा अपहरण करने वाली महिला गुड़िया यादव पत्नी आशीष यादव निवासी बेदुआ बिचलाघाट थाना कोतवाली बलिया को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपित को मीडिया के सामने पेश करते हुए एसपी ने बताया इसके खिलाफ पहले बी थाना उभांव बलिया में मामला दर्ज है। गिरफ्तार महिला गिरोह की सदस्य तो नहीं इसकी पड़ताल की जा रही है। बालक को सकुशल बरामद करने वाली पुलिस टीमों को 25 हजार रुपये नकद पुरस्कार के रूप में दिये जायेंगे।

admin

No Comments

Leave a Comment