आजमगढ़। आपसी रंजिश के चलते मारपीट से लेकर हत्या तक की वारदात होती हैं लेकिन इसमें मासूमों को निशाना हीं बनाया जाता है। इससे इतर गंभीरपुर थाना क्षेत्र के गांव में रहने वाले रायबहादुर ने अपने पड़ोसी से रंजिश के चलते उसके दो मासूमों को अगवा कर लिया। यही नहीं दोनों को लेकर वह मुंबई के लिए निकल गया। मंसूबा दोनों बच्चों से भीख मंगवाने का था लेकिन परिवार की गुहार पर पुलिस सक्रिय हो गया। नतीजा, मध्य प्रदेश पुलिस के सहयोग से दोनों बच्चों को मैहर और जबलपुर स्टेशन से बरामद करते हुए आरोपित रायबहादुर को दबोच लिया गया। पुलिस तीनों को लेकर लौट रही है जिसके बाद मामले से जुडे दूसरे पहलुओं का खुलासा हो सकेगा।

त्वरित कार्रवाई का नतीजा रहा बरामदगी

बताया जाता है कि राजबहादुर की रंजिश पड़ोस में रहने वाले फौजदार से थी। बदले की आग में उसने फौजदार के भतीजे राजा (8) और सुराज (4) को घूमने के बहाने अपने साथ चलने को तैयार कर लिया। मासूम बहकावे में आकर चल दिये। काफी देर तक न पता चलने पर परिवार ने तलाश शुरू की। पड़ताल करने पर पता चला कि दोनों को लेकर जाते राजबहादुर को देखा गया था। इस पर पुलिस से सम्पर्क किया गया। पुलिस ने मध्य प्रदेश पुलिस के सहयोग से दोनो बच्चों को मध्य प्रदेश के मैहर और जबलपुर स्टेशन से बरामद कर लिया।

admin

No Comments

Leave a Comment