अध्यापक से लेकर चपरासी तक चुनावी ड्यूटी से नदारद, सीडीओ ने दिया रपट दर्ज कराने का आदेश

वाराणसी। मछली शहर लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 की खातिर 11 मई को विधानसभा पिंडरा की पोलिंग पार्टियों के प्रस्थान के समय सवा दर्जन कर्मचारी लापता मिले थे। मुख्य विकास अधिकारी गौरांग राठी ने इस पर सख्त रुख अख्तियार किया है। सीडीओ का मानना है कि उपरोक्त कर्मचारी द्वारा नियुक्ति आदेश का उल्लंघन करने तथा दायित्वों के निर्वहन में शिथिलता बरती है। उन्होंने इसी कारण के चलते इन मतदान कार्मिकों के विरुद्ध लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 134 के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कराने हेतु आदेश जारी किया है। मुख्य विकास अधिकारी वाराणसी/प्रभारी अधिकारी कार्मिक ने मंगलवार को सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी वाराणसी को निर्देशित किया है।

यह रहे थे नदारद

जांच से स्पष्ट हुआ कि सूर्य प्रकाश सिंह सहायक अध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय बिरापट्टी विकास खंड हरहुआ, रमेश सिंह सहायक अध्यापक प्राथमिक विद्यालय हरहुआ विकास खंड हरहुआ,प्रशांत सिंह सहायक अध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय लोढान विकास खंड हरहुआ,मनोज कुमार कनिष्ठ सहायक उप निदेशक स्थानीय निधि लेखा वाराणसी, एसके पाठक लिपिक केनरा बैंक रविंद्रपुरी शाखा वाराणसी,विकास कुमार सिंह सहायक अध्यापक प्राथमिक विद्यालय नवापुरा विकास खंड चिरईगांव,आकाश श्रीवास्तव क्लर्क नगर निगम वाराणसी, शाहजहां सिद्दीकी मंडी सहायक कार्यालय कृषि उत्पादन मंडी समिति वाराणसी, राजेंद्र प्रसाद मेट पीडब्ल्यूडी प्रांतीय खंड, त्रिभुवन प्रसाद परिचारक काशी बालिका शिक्षा निकेतन इंटर कॉलेज शिवपुरवा, फ्री सोनू चपरासी अधिशासी अभियंता नलकूप खंड प्रथम, आशुतोष सिंह परिचारक पूर्व माध्यमिक विद्यालय शिवपुर, उदय नारायण सिंह चतुर्थ श्रेणी उदय प्रताप इंटर कॉलेज वाराणसी और रामजतन चतुर्थ श्रेणी अधिशासी अभियंता निर्माण खंड पीडब्ल्यूडी ड्यूटी पर नहीं आये थे।

Related posts