वाराणसी। देश की धार्मिंक और सांस्कृतिक राजधानी कही जाने वाली काशी गलियों का शहर कही जाती है। यहां सात वार नौ त्योहार की कहावत है और आये दिन होने वाले धार्मिक कार्यक्रमों में लाखों की संख्या में लोग जुटते हैं। संकरी सड़को और अतिक्रमण के चलते रोजाना बड़ा इलाका जाम की चपेट में रहता है। उत्तर प्रदेश के विधि, न्याय, सूचना, खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री डा. नीलकंठ तिवारी ने सड़को पर लग रहे जाम को शहर की प्रमुख समस्या बताते हुए दो दिन के अन्दर इसमें सुधार लाये जाने हेतु एसएसपी एवं एसपी ट्रैफिक को निर्देश दिया। उन्होने जाम की समस्या का तात्कालिक निदान किये जाने का साल्यूशन बताते हुए इसके लिये हल्काई थानेदारो की जिम्मेदारी निर्धारित किये जाने पर विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जिस एरिया में जाम लगे, उस क्षेत्र के थानेदार पर तुरन्त कार्यवाही किया जाय। उन्होने कहॉ कि अब जाम की समस्या से नागरिको को निदान दिलाये जाने में किसी भी स्तर पर शिथिलता बर्दास्त नही किया जायेगा।

छत्ताद्वार पर वीआईपी वाहन भी नहीं होगे खड़े

राज्य मंत्री शनिवार को सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होने लहुराबीर से गिरीजाघर होते हुए गोदौलिया से मैदागिन तक रोजाना लगने वाले जाम के निदान हेतु एकल मार्ग व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने के साथ ही श्री काशीविश्वनाथ मंदिर के छत्ताद्वार पर दोनो तरफ भारी संख्या में खड़ा होनें वाले दो पहिया वाहनों को कत्तई पार्क न होने देने का निर्देश देते हुए कहॉ कि यह भी इस मार्ग पर रोजाना लगने वाले जाम का प्रमुख कारण है। साथ ही मंदिर आने वाले वीआईपी वाहनों को छत्ताद्वार पर पार्क न कराते हुए शाकुरी माल में इन्हे पार्क कराये जाने की व्यवस्था कराये जाने पर जोर दिया। इसके अलावा मैदागिन, लहुराबीर, बेनिया, गोदौलिया आदि क्षेत्रोे में उपलब्ध सरकारी भूखण्डों पर छोटे-छोटे पार्किग बनाये जाने का भी निर्देश दिया। ताकि शहर को जाम से निजात दिलाया जा सकें। इसके लिये बेनियाबाग के सामने स्थित बस स्टैण्ड के अतिक्रमण को हटाकर वहॉ पर पार्किग बनाये जाने का निर्देश दिया। सड़क के किनारे पर हुए अतिक्रमण को भी हटाये जाने का उन्होने नगर आयुक्त को निर्देशित किया तथा कहॉ कि लहुराबीर-गोदौलिया-मैदागिन मार्ग पर दुकानदारो द्वारा सामानों का किये जाने वाले लोडिग-अनलोडिग कार्य को दिन में प्रतिबंधित किया जाय।

मैदागिन का मुर्दा स्टैंड शिफ्ट होगा भदऊ

मैदागिन के आसपास जाम का सबब बनने वाले मुर्दा स्टैण्ड को भदऊ चुगी पर शिफ्ट किये जाने पर जोर देते हुए उन्होने कहा कि राजघाट के पास से शववाहिनी के माध्यम से मणिकर्णिकाघाट पर लाये जाने की व्यवस्था सुनिश्चित कराया जाय। एसएसपी द्वारा 3 शववाहिनी ही होने के कारण समस्या बताये जाने पर मंत्री ने डीएम को निर्देशित किया कि वह मांझी समाज के लोगो के साथ बैठक कर उनके इच्छानुसार उनकी नौकाओं को भी इस कार्य में लगाये तथा इसके लिये नगर निगम उन्हे लाइसेंस जारी कर और रेट भी निर्धारित कर दे। उन्होने शाही नाला की हो रहे सफाई कार्य को प्रत्येक दशा में 31 दिसम्बर तक पूरा कराये जाने का भी निर्देश दिया। बैठक में कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण, डीएम योगेश्वर राम मिश्र, एसएसपी आरकेभारद्वाज, वीसी वीडीए पुलकित खरे, नगर आयुक्त डा.नितिन बंसल एवं सीडीओ सुनील कुमार वर्मा सहित मंत्री के प्रतिनिधि आलोक श्रीवास्तव प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment