वाराणसी। जनशिकायतों के निस्तारण को लेकर प्रदेश सरकार संवेदनशील है। आईजीआरएस पर शिकायतों के बाबत सीएम के यहां से फीडबैक लिया जाता है। डीएम सुरेंद्र सिंह ने मंगलवार को संपूर्ण समाधान दिवस पर राजातालाब तहसील मुख्यालय पर फरियादियों की समस्याओं से रूबरू होते हुए सभी विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि फरियादियों को उनका हक दिलाने मे कोई कोताही न बरतें। उन्होंने कहा कि शिकायती पत्रों का निस्तारण गुणवत्ता तथा समयबद्धता के साथ किया जाये। उन्होंने अधिकारियों को चेताया कि शिकायती पत्रो पर अपेक्षित कार्रवाई नहीं की जा रही है। विशेष रूप से राजस्व एवं पुलिस विभाग से कहा कि केवल खानापूर्ति की जा रही है यह स्थिति ठीक नहीं है और शिकायत मिली तो जिम्मेदार लोग बख्शे नहीं जायेंगे। डीएम ने ऐसी कार्यशैली वाले अधिकारियों/कर्मचारियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उनके खिलाफ चार्ज शीट जारी करने तथा एफआईआर कराने की भी चेतावनी दी।

गरीबों के लिए वरदान है आयुष्मान भारत

डीएम ने आयुष्मान भारत योजना की जानकारी देते हुए बताया गया कि गरीबों के लिए बरदान है यह योजना। उन्होंने बताया कि वाराणसी मे अब तक 10 सरकारी तथा 64 निजी अस्पतालों का अब तक इम्पैनलमेंट किया जा चुका है। इस मौके पर क्वालिटी कंट्रोल आफ इंडिया के बेजोन मिश्रा द्वारा आयुष्मान भारत योजना के लिए लोगों को जानकारी दी तथा सबकी सहभागिता पर विशेष जोर दिया। भदोही-कपसेठी मार्ग पर जिन लोगों की जमीन ली गयी है, उनसे सम्बंधित अधिकारी बात कर के ही समाधान निकाले कोर्ट कचहरी जाने की नौबत न आये। चकरोड के विवाद को सुल्झाने मे गम्भीरता से काम करने का निर्देश राजस्व, विकास तथा पुलिस विभाग के अधिकारियों को दिया। तहसीलों मे अंश निर्धारण का कार्य चल रहा है इसमें भी बहुत शिकायत आ रही है कार्रवाई की चेतावनी देते हुए सुधार लाने का निर्देश दिया। बिना किसी कारण किसी की जमीन कब्जा करने की शिकायत अधिक आ रही है, ऐसे लोगों को सबक सिखाते हुए 151 के तहत कार्रवाई करते हुए उनमें कानून का डर पैदा करें।

312 में सिर्फ मामलों का हुआ निस्तारण

संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर राजातालाब तहसील पर 137, सदर तहसील पर 108 एवं पिंडरा तहसील पर 67 सहित कुल 312 शिकायती प्राप्त प्रार्थना पत्रों में से मौके पर ही राजातालाब तहसील पर 26 एवं सदर तहसील पर 14 सहित कुल 40 शिकायतें प्रार्थना पत्रों का मौके पर ही निस्तारण किया गया। शेष प्रार्थना पत्रों को संबंधित विभागीय अधिकारियों को उपलब्ध कराते हुए एक सप्ताह के अंदर निस्तारण किए जाने हेतु कड़े निर्देश दिए गए। संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर एसएसपी आनंद कुलकर्णी, एडीएम प्रशासन मुनींद्रनाथ उपाध्याय सीएमओ बीवी सिंह सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment