विदेश से आने को डीएम ने चेतावनी, आये है 10 मार्च के बाद तो करा ले जांच नहीं तो छह माह कारावास

वाराणसी। जिले में अब तक दो कोरोना पॉजिटिव युवक मिले हैं। खास यह भी कि यह दोनों संयुक्त राष्ट्र अमीरात (यूएई) से आये थे और खुद टेस्टिंग कराने अस्पताल पहुंचे थे। इस प्रकार बहुत से ऐसे लोग हैं जो अन्य देशों से आये परंतु अभी तक उन्होंने स्क्रीनिंग नही क राई है। ऐसे लोगो को ढूंढने की अत्यंत आवश्यकता है ताकि समय रहते इनका इलाज शुरू हो सके। इसको ध्यान में रखते हुए डीएम कौशल राज शर्मा ने महामारी अधिनियम के अंतर्गत आदेश दिये हैं कि विदेश यात्रा से जो लोग वाराणसी 10 मार्च के बाद आये हैं या 10 मार्च के बाद भारत के बाहर किसी भी देश में कही भी विजिट किया है 29, 30 और 31 मार्च में वह दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में उपस्थित हो कर अपनी स्क्रीनिंग करायें।

लोगों से की सूचना देने की अपील

जिला प्रशासन ने स्पष्ट किया है कि इस आदेश का पालन न करने पर धारा 188 सीआरपीसी के तहत कार्यवाही की जाएगी जिसमें 6 महीने जेल तक हो सकती है। कोई भी व्यक्ति इसके बाद बिना स्क्रीनिंग मिला तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। ऐसे किसी भी व्यक्ति की जानकारी किसी को हो तो वे उसे अस्पताल भेजें। इनके घर के सदस्यों और मोहल्ले के लोगो की जिम्मेदारी है कि वे ऐसे सभी लोगो की स्क्रीनिंग कराने के लिए बाद्य करें। यदि वह होम क्वारंटाइन में हो तब भी अस्पताल आना अनिवार्य है। यदि उन्हें सर्दी, खाँसी या बुखार हो तो मास्क लगा कर निकलें और अपने या किसी जानकार के ही वाहन का प्रयोग करें। यदि कोई ज्यादा बीमार हो तो 108 एम्बुलेंस को काल करें। ज्यादा लोगो के संपर्क में ना आये, साथ ही 2 मीटर की दूरी के सोशल डिस्टनसिंग के नियम अवश्य पालन करें।

निजी अस्पताल की जांच पर नहीं विश्वास

आदेश में स्पष्ट किया गया है कि जिन्होंने 10 मार्च के बाद बीएचयू या दीन दयाल अस्पताल में चेक कराया है उन्हें आने की जरूरत नही है। अलबत्ता किसी भी प्राइवेट अस्पताल में दिखाया होगा तो उसे आना होगा। दीन दयाल उपध्याय अस्पताल में ऐसे लोग सुबह 8 से शाम 4 बजे तक कभी भी आ सकते है। दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल का कन्ट्रोल रूम नंबर 0542-2508077 है।

Related posts