बीमारी भेदभाव नहीं देखती, गलतफहमी से बाहर निकले लोग: मोदी

वाराणसी। कोरोना की दहशत के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के लोगों से रूबरू हुए। पीएम ने ये विश्वास दिलाया कि संकट की इस घड़ी में वह काशी के लोगों के साथ हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली की व्यस्तता के चलते वह वाराणसी नहीं आ पा रहे हैं, लेकिन अपने साथियों से वह पल-पल की अपडेट ले रहे हैं। मोदी ने लॉकडाउन का पालन करने के लिए काशी की जनता का धन्यवाद किया।
 कोरोना के खिलाफ हमने छेड़ा है युद्ध
मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ने कोरोना के खिलाफ युद्ध छेड़ा है। देश संकट के दौर से गुजर रहा है। 130 करोड़ महारथी कोरोना को हराएंगे। काशी इसमें सबसे महत्वपूर्ण है। काशी लोगों का मार्गदर्शन कर सकती है। काशी देश को साधना, समाधान और संयम सीखा सकती है। मोदी ने कहा कि काशी का अर्थ ही कल्याण होता है। महादेव की नगरी में ये सामर्थ्य नहीं होगा तो किसमें होगा ? उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग यानी घर में अलग रहना बहुत जरूरी है। किसी तरह के अफवाह और अंधविश्वास से दूर रहें।

बीमारी भेदभाव नहीं करती
वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान बनारस के रहने वाले समाजसेवी कृष्णकांत वाजपेयी ने कोरोना बीमारी को लेकर लोगों की अलग-अलग राय का जिक्र किया। उन्होंने बताया कि कुछ लोग कह रहे हैं कि गर्मी बढ़ने के साथ ये बीमारी खत्म हो जाएगी। इस सवाल पर पीएम ने जवाब देते हुए कहा कि कुछ लोग अपनी सहूलियत के हिसाब से काम करते हैं। मोदी ने चेतावनी देते हुए कहा कि लोग अपनी लगतफहमी से जितना जल्दी बाहर निकलें, बेहतर होगा। कई बार लोग सावधानी नहीं बरतते।अगर संयम रखा जाए तो इलाज संभव है। घरों में बंद रहना एकमात्र उपाय है ।बीमारी किसी से भेदभाव नहीं करती
डॉक्टरों से बदसलूकी दुर्भाग्यपूर्ण
मोदी ने देश के कुछ हिस्सों में होने वाली बदसलूकी की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।उन्होंने कहा किडॉक्टरों के साथ बदसलूकी हृदय को पीड़ा देने वाली है। अस्पतालों में सफेद कपड़ों में दिखने वाले लोग ईश्वर के रूप हैं।अपने जीवन को खतरे में डालकर ये लोग लोगों की सेवा कर रहे हैं।मेरी अपील है कि लोग डॉक्टरों और नर्स के साथ बुरा बर्ताव नहीं करें।सेवा करने वालों के साथ बुरा बर्ताव करना महंगा पड़ेगा।
नवरात्र में गरीबों की मदद करें 
मोदी ने कहा कि नवरात्रि में हर कोई अलग-अलग दिन 9 गरीबों की मदद का संकल्प लें। मोदी बनारस के कपड़ा व्यापारी अखिलेश कुमार के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि अगर 21 दिन में हालत ठीक नहीं हुआ तो भारी नुकसान की आशंका है। आपदा को अवसर में बदलना ही मानव जीवन का उद्देश्य होना चाहिए। इस दौरान मोदी ने कोरोना की जानकारी के लिए 9013151515 पर व्हाटसएप जारी किया। 

Related posts