भदोही। चर्चित गांव शेरवां निवासी प्रशांत सिंह चिट्टूू ने आठ साल पहले ही ब्लाक प्रमुख पद का चुनाव लड़ने की तैयारी कर ली थी। आवश्यक संख्या बल भी था लेकिन बसपा सरकार में उन्हें यह पद नहीं मिल सका। इसके बाद सपा की सरकार आयी तो एक बार फिर से तैयारियां की गयी लेकिन नाकामी हासिल हुई। दोनों बार कुर्सी न मिलने की एक ही वजह थी। एक बाहुबली की नाराजगी। सूबे में भाजपा की सरकार बनने के बावजूद चिट्टू का यहां तक पहुंचना संभव न होता यदि सैयदराजा के विधायक सुशील सिंह ने हस्तक्षेप न किया होता। दावा किया जाता है कि सुशील के प्रयासों से ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्र ने चिट्टू को ‘आशीर्वाद’ दिया जिसका नतीजा सपा के ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित हो सका। बावजूद इसके सोमवार को हुए शपथ ग्रहण समारोह में सांसद और कई विधायकों की मौजूदगी के बावजूद विजय मिश्र की अनुपस्थिति से चर्चाओं का बाजार गर्म रहा।

शपथ ग्रहण में जुटे दिग्गज

भदोही के नवनिर्वाचित भाजपा के ब्लॉक प्रमुख प्रशांत सिंह उर्फ चिट्टू को पद और गोपनीयता की शपथ एसडीएम सुनील कुमार यादव ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण कार्यक्रम में सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त, औराई विधायक दीनानाथ भाष्कर और सैयदराजा से विधायक सुशील सिंह सहित कई राजनीतिक दिग्गज उपस्थित रहे। गौरतलब है कि, इस सीट पर सपा के कब्जे को हटाते हुए प्रशांत सिंह अविश्वास प्रस्ताव के बाद हुए चुनाव में निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख चुने गए हैं। शपथ ग्रहण करने के कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए ब्लाक प्रमुख ने कहा कि वो देश के पीएम मोदी का ग्रामोदय से भारत उदय का सपना साकार करने में पूरा योगदान देंगे और ब्लॉक के गांव की तस्वीर बदलने में पूरी भूमिका निभाएंगे। इस दौरान सीडीओ हरिशंकर सिंह, भदोही सीओ अभिषेक पांडेय, भाजपा जिलाध्यक्ष हौसिला पाठक, उपाध्यक्ष सपना दुबे, भदोही चेयरमैन अशोक जायसवाल, ज्ञानपुर चेयरमैन हीरालाल मौर्य, पूर्व विधायक पूर्णमासी पंकज, सांसद प्रतिनिधि शैलेन्द्र दुबे, सुनील मिश्रा, अखिलेश पाल सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment