वाराणसी। काशी विश्वनाथ मंदिर के रेडजोन स्थित सवर्ण अन्नपूर्णेश्वरी का पट सोमवार को धनतेरस पर खुलेगा। साल में सिर्फ चार दिन खुलने वाली स्वर्णमयी मां अन्नपूर्णा के दर्शन की तैयारी लगभग पूरी हो चली है। काशी अन्नपूर्णा अन्नक्षेत्र की द्वितीय शाखा के सभागार में शुक्रवार को मीडिया से बातचीत के दौरान महंत रामेश्वरपुरी ने बताया कि इस वर्ष सोमवार को धनतेरस बड़ा ही सौभाग्दायी है। महंत ने बताया कि जहां कि चराचर जगत के स्वामी भोलेनाथ स्वयं मां अन्नपूर्णा से भिक्षा मांगा थी। मां के भक्तो के कल्याण हेतु भिक्षा रूप में वरदान दिया था कि काशी में कोई कभी भूखा नही सोएगा। मां के दर्शन व खजाना प्राप्ति से वर्ष भर सुख शांंति और अन्न धन की प्राप्ति होती है। खजाना वितरण वर्ष में केवल एक दिन धनतेरस को ही होता है बाकी तीन दिन स्वर्णमयी माँ का दर्शन मिलता है। सोमवार को भोर मंगल बेला में षोडशोपचार पूजन व भव्य आरती एवं भक्तो में वितरण होने वाले खजाने का विधि विधान से पूजन कर श्रद्धालुओ के दर्शन हेतु पट खोल दिया जाएगा ।

किये गये हैं पुख्ता इंतजाम

प्रबंधों के तहत भोग आरती दोपहर 12 बजे तक दर्शन चलता रहेगा आधी घण्टे भोग आरती तक दर्शन बन्द रहेगा फिर भोग आरती के बाद साढ़े 12 से रात्रि 11 बजे तक दर्शन चलता रहेगा। मन्दिर प्रबन्धक काशीनाथ मिश्र ने बताया कि भक्तो की भारी भीड़ चार दिन तक उमड़ती है कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिये जिला प्रशासन के द्वारा भारी संख्या में फोर्स तैनात की जाती है। सुरक्षा के दृष्टि से मन्दिर प्रांगण में अतिरिक्त कैमरे लगाये गये है। साथ ही परिसर में चिकित्सक की टीम भी मौजूद रहेगी। भक्तो की सुविधा के लिये वालिंटियर भी लगाये जाते है जिससे भक्तो को किसी प्रकार की समस्या न हो सके दर्शन सुलभ मिले। इस दौरान उप महंत शंकर पूरी व एक्सक्यूटिव ट्रस्टी ऐ जनार्दन भी मौजूद रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment