वाराणसी। प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने लंबे समय से एक ही क्षेत्र अथवा पटल पर जमे लेखपाल, सेक्रेटरी एवं सिपाहियों सहित अन्य विभागीय कर्मियों का इधर से उधर क्षेत्र अथवा पटल परिवर्तन किये जाने का निर्देश दिया है। सर्किट हाउस में सोमवार को अधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंनें लेखपालों को कम से कम तहसील, सेक्रेटरी को ब्लाक और सिपाहियों को सर्किल स्तर पर इधर से उधर किये जाने पर जोर दिया। गंगा प्रदूषण इकाई द्वारा सीवरेंज कार्य हेतु किये गये सड़को की खोदाई के कारण वाराणसी नगर क्षेत्र की सड़को का मरम्मत कार्य न हो पाने की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होने गंगा प्रदुषण इकाई के अभियंता को युद्वस्तर पर अभियान चलाकर अपने कार्य को पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। ताकि सड़को का मरम्मत कार्य शीघ्र पूरा हो सके।

फ्लाइओवर और रिंग रोड का काम नियत समय में हो पूरा

डिप्टी सीएम ने चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर तथा रिंग रोड फेज-1 के कार्य को प्राथमिकता के आधार पर हर हालत में निर्धारित अवधि में पूरा कराये जाने का निर्देश देते हुए कहा कि इन कार्यो को समय से पूरा कराये जाने हेतु श्रमिको एवं मशीनों की संख्या बढ़ाकर तीन शिफ्ट में कार्य कराये जाय। उन्होने नरायनपुर-टेगरा मोड़ के क्षतिग्रस्त मार्ग का तुरन्त मरम्मत कराये जाने हेतु पीडब्ल्यूडी के अभियंता को निर्देशित किया। बाबतपुर-मंगारी के मध्य रेलवे उपरगामी सेतु की आवश्यकता बताते हुए उन्होने संबंधित विभागीय अभियंता को निर्देशित किया कि यदि प्रस्ताव बना हो, तो कार्यवाही सुनिश्चित करे और यदि अभी तक कोई प्रस्ताव न बना हो, तो शीघ्र प्रस्ताव बनाकर उपलब्ध कराये। उन्होने जिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहॉ कि सभी नलकूपों का सत्यापन करा लिया जाय तथा खराब नलकूपों को तुरन्त प्राथमिकता पर ठीक कराये। पेयजल की समस्या नही होनी चाहिये।

भू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई पर जोर

केशव प्रसाद मौर्य ने भू-माफियाओं के विरूद्व अभियान चलाकर कार्यवाही किये जाने का निर्देश देते हुए कहा कि चिन्हिंत भू-माफियाओं के विरूद्व कार्यवाही सुनिश्चित कराया जाय। जो भू-माफिया चिन्हिंत न हो सके हो, उन्हे अवश्य चिन्हिंत किया जाय। उन्होने निजी विद्यालयों द्वारा अधिक शुल्क लेने अथवा विभिन्न प्रकार से अभिभावको का शोषण किये जाने को संज्ञान लेते हुए डीएम को निर्देशित किया कि इस संबंध में शासन स्तर से दिशा-निर्देश जारी किया गया है। इसके लिये टीम गठित कर दिशा-निदेर्शों का अनुपालन प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराया जाय। उन्होंने सभी विद्यालयों में विद्युत कनेक्शन, शुद्व पेयजलापूर्ति सहित शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने पर भी विशेष जोर दिया। वाराणसी में बन रही सड़को की गुणवत्ता मापने वाली न्यूक्लीयर गेंज मशीन के अनुपलब्धता की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होने लोक निमा्रण विभाग के अभियंता को इस मशीन की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश देते हुए कहॉ कि सड़को का निर्माण हर हालत में मानक के अनुरूप सुनिश्चित कराया जाय। उन्होने एनएच द्वारा बनवाये जा रहे 2 अथवा 4 लेन सड़को के 5 किमी0 क्षेत्र के ग्राम सभाओं को उससे जोड़े जाने का निर्देश देते हुए इसके लिये सम्पर्क मार्गो के निर्माण हेतु शीघ्र कार्ययोजना बनाये जाने पर जोर दिया। उन्होने विद्युत विभाग के अभियंता को जर्जर तारो को दुरूस्त किये जाने का भी निर्देश दिया। बैठक में विधायक पिण्डरा डा. अवधेश सिंह, विधायक रोहनिया सुरेन्द्र नारायण, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, डीएम योगेश्वर राम मिश्र, सीडीओ गौरांग राठी सहित सेतु निगम, पीडब्ल्यूडी, जलनिगम, विद्युत विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

admin

No Comments

Leave a Comment